POLITICS

पूर्वोत्तर भारत में हो रही तेज बारिश, मौसम विभाग ने कहा-तीन दिन में एमपी-यूपी में पहुंच जाएगा मानसून

मौसम विभाग का अनुमान है कि एनसीआर के अलग-अलग भागों, गाजियाबाद, इंदिरापुरम, छपरौला, नोएडा, दादरी, ग्रेटर नोएडा, फरीदाबाद, बल्लभगढ़ के आसपास के क्षेत्रों में 30-40 किमी/घंटा की गति के साथ हल्की से मध्यम तीव्रता वाली तेज हवाएं चलेंगी।

पूर्वोत्तर भारत में तेज बारिश का दौर जारी है। वहीं देश के बाकी हिस्सों में भी छिटपुट बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने अगले दो-तीन दिन में मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में मानसून के पहुंचने की संभावना जताई है। इस बीच एक गर्त रेखा हरियाणा से उत्तर प्रदेश, बिहार, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम और असम होते हुए नगालैंड तक फैली हुई है।

असम, मेघालय जैसे राज्यों में बारिश ने तबाही मचा रखी है। हालांकि मानसून की पूर्वी शाखा चार दिन की देरी से चल रही है। पश्चिमी शाखा की रफ्तार सामान्य है। जहां मानसून पहले आ चुका, वहां भी औसत से कम पानी पड़ा है। यानी कुल मिला कर पिछले पंद्रह दिन में बारिश का स्तर सामान्य से कम रहा। लेकिन अब बारिश का दौर तेज हो रहा है। इससे लोगों को गर्मी से निजात मिली है।

साथ ही दक्षिण-पश्चिम राजस्थान पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। एक गर्त रेखा इस चक्रवाती परिसंचरण से उत्तर पश्चिमी अरब सागर तक फैली हुई है और एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र हरियाणा और आसपास के इलाकों में निचले स्तरों पर बना हुआ है। एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पाकिस्तान के मध्य भाग पर बना हुआ है। ऐसे में देश भर में मौसमी हलचल तेज हो गई है।

असम के सोनितपुर जिले में शुक्रवार, 17 जून, 2022 को भारी बारिश में बाढ़ प्रभावित क्षेत्र से नवजात शिशु को सिर पर रखकर सुरक्षित ले जाते लोग। (पीटीआई फोटो)

मौसम विभाग का अनुमान है कि एनसीआर के अलग-अलग भागों, गाजियाबाद, इंदिरापुरम, छपरौला, नोएडा, दादरी, ग्रेटर नोएडा, फरीदाबाद, बल्लभगढ़ के आसपास के क्षेत्रों में 30-40 किमी/घंटा की गति के साथ हल्की से मध्यम तीव्रता वाली तेज हवाएं चलेंगी।

असम के बारपेटा जिले में शुक्रवार, 17 जून, 2022 को भारी वर्षा की वजह से आई बाढ़ में अस्थायी नावों का उपयोग करके आवागमन करते लोग। (पीटीआई फोटो)

यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, कैथल, नरवाना, करनाल, फतेहाबाद, राजौंद, असंध, सफीदों, बरवाला, जींद, पानीपत, आदमपुर, हिसार, गन्नौर, हांसी, सोनीपत (हरियाणा) सहारनपुर, गंगोह, देवबंद, नजीबाबाद, शामली, मुजफ्फरनगर, कांधला, बिजनौर, खतौली, सकोटी टांडा, हस्तिनापुर, चांदपुर, बड़ौत, दौराला, बागपत, मेरठ, खेकरा, किठौर, अमरोहा, गढ़मुक्तेश्वर, कासगंज, नंदगांव, सिकंदर राव, बरसाना, एटा (यूपी) डीग (राजस्थान)में भी बारिश की संभावना बनी हुई है। वहीं पूर्वोत्तर भारत में मध्यम के साथ और एक या दो स्थानों पर भारी बारिश संभव है।

पंजाब, बिहार, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल, ओड़ीशा, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर और पूर्वी राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्टÑ, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, पूर्वी गुजरात, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: