LATEST UPDATES

पालम हत्याकांड: पहले दादी को मारा, फिर पिता, मां और बहन को… 4 घंटे तक बेटे ने किया कत्लेआम

केशव ने मंगलवार शाम 5.30 बजे अपनी दादी से पैसे मांगे, जब उन्होंने पैसे देने से इनकार कर दिया। तो केशव ने अपनी हत्या कर दी। शाम 7.30 बजे केशव के पिता दिनेश घर लौटा तो वह अपनी मां को खोजता है। इस दौरान केशव ने चाकू मारकर उनकी भी हत्या कर दी। वह शव को पूर्वाश्रम ले गए। इसके बाद उसने मां और बहन की हत्या की।

एक्स

आरोपी केशव ने अपनी दादी, पिता, मां और बहन की हत्या की

अरोपी केशव ने अपनी दादी, पिता, मां और बहन की हत्या की

कुछ महीने पहले ही रिहैब सेंटर से वापस 25 साल के एक युवक ने एक कर परिवार के चार सदस्यों को मौत के घाट उतार दिया। मृतक मृतक के पिता, दादी, मां और बहन शामिल हैं। मामला दिल्ली के पालम इलाके का है। यहां 25 साल के केशव ने इस कत्लेआम की शुरुआत दादी की हत्या से की। केशव ने अपनी दादी को सिर्फ इसलिए मार दिया, क्योंकि उन्होंने उसे ड्रग्स के लिए पैसे देने से मना कर दिया था।

इस मामले में शिकायत करने वाले केशव के चचेरे भाई कुलदीप सैनी ने बताया कि वह अक्सर घर से गायब हो गया था। उन्होंने कहा कि केशव 10 साल से नशे का आदी था। वह 3 नवंबर को अचानक घर से गायब हो गया था। वह 19 नवंबर को लौटा था। हालांकि, पुलिस का कहना है कि जब केशव ने अपने घर की हत्या की तब उसने नशे में नहीं था।

शुरुआती जांच में पता चला है कि परिवार में पहले बात हुई थी। उसके पास नौकरी नहीं थी। उसके परिवार के लोग उसे नौकरी करने के लिए कहते थे। इससे वह नाराज हो गया था। मंगलवार को भी उसने अपनी मां से पैसे मांगे, लेकिन जब उसने मना कर दिया तो वह सहमत होने लगा। इसके बाद वह घर से निकल गया। इसके बाद उसकी मां, पिता और बहन भी घर से बाहर नौकरी पर चले गए।

केशव शाम को वापस घर लौटा, उस समय उसके दादा दादी घर पर थे। केशव ने शाम 5.30 बजे अपनी दादी से पैसे मांगे, जब उन्होंने देने से इनकार कर दिया। इसके बाद केशव ने अपनी हत्या कर दी। जब शाम 7.30 बजे केशव के पिता दिनेश घर लाते हैं तो वे अपनी मां को खोजते हैं। इस दौरान केशव ने चाकू मारकर उनकी भी हत्या कर दी। वह शव को पूर्वाश्रम ले गए।

इसके बाद रात 9:00 बजे जब केशव की मां दर्शन लौटती है, तो उसने उन्हें भी चाकुओं से मार कर मार डाला। रात करीब 9.30 बजे जब केशव की बहन उर्वशी लौटी तो यह सब देखकर चौंक गया। वह मदद के लिए चिल्लाने लगी। तभी केशव ने उसकी भी हत्या कर दी। उर्वशी की आवाज सुनकर कुलदीप वहां पहुंचा। केशव वहां से पहुंचने की कोशिश कर रहा था। कुलदीप ने उसे पकड़ लिया और पुलिस को फोन किया।

कुलदीप का कहना है कि केशव अक्सर घर में झिझकता था। वह आए दिन सभी को धमकियां देता था और प्रभावित करता था। पुलिस के मुताबिक, केशव पर पहले से दो आपराधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस ने बताया कि जब वे केशव को गिरफ्तार करके ला रहे थे, तो उसने कुलदीप को भी धमकी दी। उसने कुलदीप से कहा कि मैं पकड़वा रहा हूं, मैं जेल से आने के बाद भी तुम्हारी हत्या कर दूंगा।

    • आज तक की नई वेबसाइट से अपने जीमेल पर रियल टाइम अलर्ट और सभी सूचनाएं डाउनलोड करें

            • आरोपी केशव ने अपनी दादी, पिता, मां और बहन की हत्या की

    • Back to top button
      %d bloggers like this: