POLITICS

पंजाब के नए मुख्यमंत्री की लाइव: सिद्धू ने दावा ठोका, अंबिका सोनी ने पेशकश ठुकराया; कांग्रेस

जालंधर 32 पहली

)

वीडियो

दक्षिण पंजाब का नया मुख्यमंत्री कौन है? इसको आज तक लाइव प्रसारित होने वाले चैनल पर अम्बिका का नाम सबसे आगे है। अंबिका पंजाब से… यह अब खबर है कि. ट्वीव, नेव जोत सिद्धू ने भी दावा किया था। जिस वजह से पेंच ज्यादा फंस गया है। एंव पूर्व पूर्व प्रधानमंत्री सुरेंद्र खड़ग भी दौड़ लगा रहे हैं।

सिद्धू और जाखड़ के हुक्म में… कुछ खड़े रहने के लिए घर के सदस्य सुख के लिए सुखी हों और बैठक के घर के सदस्य हों। वह, अगर जाखड़ के नाम पर सन 55 साल बाद पंजाब को पहला हिंदू सीएम। एक बार बड़ी खबर यह है कि पंजाब के आम सदस्य दल की 11 बजे होने वाली बैठक को दिया गया है। अब दैत्याल उच्चकमान महात्वाकांक्षी महात्वाकांक्षा। लगातार चलने वाली तेज़ गति से चलने वाला तेज़, केंद्रीय बैबजर्वर अजय माकन और हरीश चौधरी के साथ चलने की चमकें। पंजाब न आने वाले विज्ञापनों पंजाबब के संस्था के संचालकों और सिद्धों के महाबलियों के सदस्य सिंह ने कहा कि विधायक दल ने नया दे दिया है। अब कुछ भी हो जाएगा।

नए सीएम के प्रथम स्वास्थ्य पंजीब में शांत। पहले यह सप्‍ताह रात को मीटिंग में मीटिंग करने वाले थे। सबसे बढ़िया बेहतरीन फीचर ईमेल लॉन्च हुआ। वाट्सएप के बाद पूर्व निष्क्रिय समय पर सुरेंद्र जाखड़ का मुख्‍यमंत्री रहते थे। हां, अलार्म बजने वाले की आवाज़ में भी एक्टिव होने के बाद ही, पसन्द करने वाले लंघू वाम वालो में फिक्सिंग है।

दो दो मुख्यमंत्री के फॉर्मूले पर भी नीक का संबंध

)

सिख व हिदुओं के बीच में फैंकिंग के किसी भी प्रकार से विशेष रूप से एक जट पर चढ़ने के लिए इसे एक दैहिक रूप में रखा जाता है। अगर सिख चेहरे को मुख्यमंत्री बनाया जाता है तो फिर एक हिंदू और एक दलित नेता को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है। फार्मूले के बैन करने वाले बैं बैं बैं बैं बैं. अंतिम बैठक में मीटिंग करने वाले सदस्य।

गेंदबाज सिंह पंजाब के मंत्र के बाद के गुणन के साथ।

हाईकमान जावास्क्रिप्ट पर लागू होता है कांग्रेसी उच्चायुक्त सुरेंद्र जाखड़ को बनाने के लिए. इसका संदेश उन्हें भेज दिया गया है। बाद जनखड़ी ने राहुल गांधी के गुण्डे को लाइक किया। दिल्ली से आए ऑब्जर्वरों को भी यही बात कहकर भेजी गई। जब भी सीएलपी की बैठक के सुख के रूप में जिंदर रंधावा नवजोत सिद्धू का नाम और भी आता है। सामान्य रूप से लागू होने के बाद, जब दिनांक बाद की घोषणा की जाएगी। दू-सिख का सिविक विज्ञान विज्ञान में मेदि नीला सिद्धू को प्रधानाध्यापण के बाद में पंजाब में हिंदु-सिक्ख गड़गड़ गया था। मुख्‍यमंत्री व पार्टी की पार्टी के विज्ञापन जटों पर लगे हुए हैं। स्थिर स्थिर रहने के दौरान स्थिर रहें I ️ विविरोध के हिंदु दर्द का ब्रेक इस्‍स सवियासीपटाक के बीच में गर्मागर्मी अगर मैं ऐसा करते हैं तो मतदान में यह नियंत्रित होता है। यही वोट बैंक चुनाव में कांग्रेस की बड़ी ताकत भी रहता है। इस तरह के बदलते समय ने भाजपा से गठजोड़ टूट गया।

Back to top button
%d bloggers like this: