POLITICS

देश में डर, इसके खत्म होते ही होगी क्रांति, बोले संजय राउत

संजय राउत ने कहा कि एकनाथ शिंदे को शिवसेना तोड़ने का ईनाम सीएम बनाकर दिया गया। उनका सवाल था कि बीजेपी ने शिंदे को पहले सीएम क्यों नहीं बनाया।

महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की तारीफ करने के बाद शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा है कि देश में एक डर का माहौल है। इसके खत्म होते ही क्रांति होगी। खास बात है कि राउत ने बीते दिन ही पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह से मिलने की बात कही थी। न्यूज चैनल “आज तक” के साथ इंटरव्यू के दौरान उन्होंने ये बातें कही हैं।

संजय राउत ने कहा कि एकनाथ शिंदे को शिवसेना तोड़ने का ईनाम सीएम बनाकर दिया गया। उनका सवाल था कि बीजेपी ने शिंदे को पहले सीएम क्यों नहीं बनाया। वो पहले भी तो उनको सीएम बना सकते थे। बीजेपी चाहती तो ये सारा सियासी ड्रामा रोक सकती थी, लेकिन ऐसा होने दिया गया जिससे शिवसेना टूटी। राउत के मुताबिक, उन्हें गलत तरीके से गिरफ्तार किया गया था।

राउत का कहना था कि उन्होंने गलत किया है तो उन्हें जेल में डालिए, जान से मार दीजिए। उनके मन में किसी के लिए कड़वाहट नहीं है। वो मरने को भी तैयार हैं। उनका कहना था कि उनके ऊपर लगे आरोपों की जांच के लिए पूर्व सीजेआई यूयू ललित के नेतृत्व में एक जांच कमेटी बने। वो हर जांच का सामना करने को तैयार हैं।

शिवसेना सांसद का कहना था कि मोदी सरकार को बदला पाकिस्तान, आतंकियों और चीन जैसे देशों से लेना चाहिए। शिवसेना से बीजेपी बदला क्यों ले रही है। उनका कहना था कि हमने बहुत संयमित तरीके से राजनीति की। वो उद्धव का साथ नहीं छोड़ने जा रहे।

संजय राउत का कहना था कि शिंदे गुट में गए बहुत से एमएलए आज भी उनके संपर्क में हैं। उनका कहना था कि बागियों को पता है कि वो गलत कर गए। उन्हें मलाल है। एकनाथ शिंदे ने बीजेपी के साथ मिलकर गलत तरीके से सरकार बनाई है। राउत ने कहा कि राहुल गांधी और आदित्य ठाकरे भविष्य के नेता हैं। भारत जोड़ो यात्रा पर उनका कहना था कि इसके जरिये देश को जोड़ने का संकेत दिया जा रहा है।

संजय राउत ने देवेंद्र फडणवीस की तारीफ के बाद जब पीएम मोदी और अमित शाह से मिलने की बात की तो संदेश गया कि वो सरेंडर कर रहे हैं, लेकिन आज फिर से उनके तेवर देखकर लगा कि वो बीजेपी के सामने झुकने को तैयार नहीं हैं। राउत ने न केवल डर के माहौल का जिक्र करके बीजेपी पर हमला बोला बल्कि शिंदे को भी नहीं बख्शा। उन्होंने साफ दिखाया कि वो उद्धव के साथ ही रहने वाले हैं, चाहे उनके खिलाफ कुछ भी हो जाए।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: