POLITICS

देश में कोरोना का खतरा:IMA ने कहा

  • Hindi News
  • National
  • Coronavirus Variant BF7 Cases India LIVE Update; Delhi Mumbai Bhopal Indore Jaipur | Kerala Maharashtra Mumbai UP Rajasthan COVID Latest News

LIVEदेश में कोरोना का खतरा:मनसुख मांडविया आज राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ बैठक करेंगे, नई गाइडलाइंस हो सकती हैं जारी

नई दिल्ली7 मिनट पहले

स्वास्थ्य मंत्रालय ने इंटरनेशनल ट्रेवलर्स के लिए गाइडलाइंस जारी कर दी। इसमें एयरपोर्ट पर रैंडम सैंपलिंग और कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए कहा गया है।

भारत में कोरोना के बढ़ते खतरे के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया आज राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मीटिंग में कोरोना के नए वैरिएंट से लड़ने के लिए नया प्लान बनाने पर चर्चा हो सकती है। इसके साथ ही नई गाइडलाइंस भी जारी हो सकती हैं।

इससे पहले इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) के डॉक्टर अनिल गोयल ने गुरुवार को कहा कि भारत में लॉकडाउन की जरूरत नहीं पड़ेगी। IMA के मुताबिक, चीन की तुलना में भारत के लोगों की इम्यूनिटी ज्यादा स्ट्रॉन्ग है। भारत की 95% आबादी में कोरोना के खिलाफ इम्यूनिटी बनी है, ऐसे में देश में लॉकडाउन नहीं लगेगा।

कोरोना से जुड़े अपडेट्स…

  • केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि भारत ने दूसरे देशों को भी वैक्सिन दी। देश में 4 टीकों का उत्पादन हो रहा। हमें सतर्क रहने की जरूरत है।
  • तेलंगाना के स्वास्थ्य मंत्री हरीश राव ने कहा कि कोरोना से घबराने की जरूरत नहीं है, लेकिन सतर्क रहने की जरूरत है। साथ ही लोगों से बूस्टर डोज लेने की अपील है।
  • गुरुवार रात 11 बजे तक देश में कोरोना के 101 ने केस मिले हैं, जबकि 3 लोगों की मौत हो गई। इनमें दो मौतें महाराष्ट्र और एक मौत दिल्ली में हुई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रिव्यू मीटिंग की
गुरुवार को मीटिंग के दौरान PM मोदी ने मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग की अपील की। इसके अलावा उन्होंने टेस्टिंग बढ़ाने और कोविड सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग कराने पर जोर दिया। मीटिंग खत्म होने के कुछ ही घंटे के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय ने इंटरनेशनल ट्रेवलर्स के लिए गाइडलाइंस जारी कर दी।

इसमें कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने और इंटरनेशल फ्लाइट्स के 2% पैसेंजर्स की रैंडम सैंपलिंग करने का निर्देश दिया गया। 24 दिसंबर से इसे देशभर के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर लागू कर दिया जाएगा।

राज्यसभा में गुरुवार को PM मोदी मास्क लगाकर पहुंचे। उनकी समीक्षा बैठक से पहले सदन में भी कोरोना पर चर्चा हो सकती है।

राज्यसभा में गुरुवार को PM मोदी मास्क लगाकर पहुंचे। उनकी समीक्षा बैठक से पहले सदन में भी कोरोना पर चर्चा हो सकती है।

PM की हाईलेवल मीटिंग में क्या हुआ?
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को देश में कोरोना की स्थिति को लेकर उच्च स्तरीय बैठक की। बैठक के बाद उन्होंने लोगों से कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील की। उन्होंने कहा कि त्योहार आ रहे हैं इसलिए लोग मास्क पहनें। इसके अलावा उन्होंने जीनोम सीक्वेंसिंग और कोविड टेस्टिंग बढ़ाने के लिए भी कहा है। उन्होंने अफसरों को खास तौर से अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर चल रहे सर्विलांस मेजर्स को मजबूत करने का निर्देश दिया। इसके अलावा उन्होंने बुजुर्गों और बीमार लोगों को बूस्टर डोज लेने की अपील की है।

राज्यों को बुनियादी ढांचा मजबूत करने का निर्देश
उन्होंने राज्यों को ऑक्सीजन सिलेंडर, पीएसए प्लांट, वेंटिलेटर और मानव संसाधन समेत अस्पताल के बुनियादी ढांचों को तैयार रखने के लिए कोविड स्पेसिफिक सुविधाओं का ऑडिट करने की भी सलाह दी है। प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने बताया कि PM को दवाओं, टीकों और अस्पताल के बेड के संबंध में पर्याप्त उपलब्धता की जानकारी दी गई। उन्होंने आवश्यक दवाओं की उपलब्धता और कीमतों की नियमित निगरानी करने की सलाह दी है।

इंटरनेशनल ट्रेवलर्स के लिए गाइडलाइंस में ये बातें…

  • सभी ट्रेवलर्स पूरी तरह वैक्सीनेडेट होने चाहिए। फ्लाइट्स में और एंट्री प्वाइंट्स पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें। जैसे-मास्क पहनें और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।
  • पैसेंजर में कोविड के लक्षण पाए जाने पर उसे स्टैंडर्ड प्रोटोकॉल के तहत आइसोलेट किया जाएगा। फ्लाइट से उतरने के बाद भी ‌उसे आइसोलेट किया जाएगा और ट्रीटमेंट दिया जाएगा।
  • फ्लाइट से उतरते समय फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। एंट्री फ्वाइंट पर सभी पैसेंजर्स की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी।
  • स्क्रीनिंग में किसी पैसेंजर में लक्षण पाए जाने पर उसे आइसोलेट कर इलाज के लिए भेजा जाएगा। इंटरनेशल फ्लाइट्स के 2%पैसेंजर्स की रैंडम सैंपलिंग की जाएगी।
  • इन पैसेंजर्स का सिलेक्शन एयरलाइंस करेंगी, जो अलग-अलग देशों के होंगे। सैंपल देने के बाद ही ये एयरपोर्ट से जा सकेंगे।
  • यदि कोई सैंपल पॉजिटिव निकला तो उसे जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए लैब में भेजा जाएगा। ऐसे पैसेंजर्स का प्रोटोकॉल के हिसाब से इलाज किया जाएगा और उन्हें आइसोलेट किया जाएगा।
  • यात्रा से लौटने पर सभी यात्री अपनी हेल्थ का ध्यान रखेंगे। यदि इनमें से किसी में लक्षण बाद में दिखाई देते हैं तो वह नजदीकी हेल्थ सेंटर्स पर इसकी जानकारी देंगे।
  • 12 साल तक के बच्चों को रेंडम सैंपलिंग में शामिल नहीं किया जाएगा। हालांकि, यात्रा के दौरान या उसके बाद लक्षण मिलने पर उनका स्टैंडर्ड प्रोटोकॉल के हिसाब से इलाज किया जाएगा।

कोरोना को लेकर राज्यों ने भी की मीटिंग, जाने किसने क्या कहा…

1. राजस्थान: भीड़-भाड़ वाले एरिया में रैंडम सैंपलिंग के आदेश राजस्थान में हेल्थ डिपार्टमेंट ने कोरोना को लेकर गाइड लाइन जारी की है। भीड़-भाड़ वाले एरिया में रैंडम सैंपलिंग के आदेश जारी किए हैं। ये सैंपलिंग रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, सब्जी मंडी समेत अन्य जगहों पर की जाएगी। इसके साथ ही पीएचसी, सीएचसी और हॉस्पिटल आने वाले संदिग्ध मरीजों के भी सैंपल लेने के निर्देश दिए हैं। सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (CMHO) को निर्देश दिए है कि इसके लिए अब हर संदिग्ध मरीज के सैंपल लेकर उसकी जांच करवाई जाए और पॉजिटिव मिलने पर उसे जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए भिजवाया जाए।

2. मध्यप्रदेश: निगरानी के लिए हर हफ्ते होगी मीटिंग
मध्यप्रदेश में अब हर हफ्ते कोविड की निगरानी रखने के लिए बैठक होगी। आज विधानसभा के शीतलकालीन सत्र में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यह बात कही। नए कोविड पॉजिटिव व्यक्ति के सैंपल का जीनोम टेस्ट कराया जाएगा। टेस्ट के लिए सैंपल भोपाल के एम्स और ग्वालियर स्थित रक्षा अनुसंधान प्रयोगशाला (DRDO) भेजे जाएंगे। राज्य सरकार ने यह फैसला बुधवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से देशभर में कोविड के संक्रमण का अलर्ट जारी होने के बाद लिया है।

3. गुजरात: मेडिकल सुविधाओं की हुई समीक्षा
चीन में बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार और राज्य सरकारें सतर्क हो गई हैं। गांधीनगर में स्वास्थ्य मंत्री ऋषिकेश पटेल की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक हुई। इसमें प्रदेश में कोविड 19 की स्थिति पर चर्चा की गई। इसके अलावा प्रदेश में ऑक्सीजन, दवा, कोविड केयर सेंटर, टीकाकरण जैसी सुविधाओं की समीक्षा की गई। शहरी क्षेत्रों और जिलों में स्वास्थ्य सुविधाएं क्या हैं? बैठक में इस पर भी चर्चा हुई।

4. महाराष्ट्र: सरकार का जोर टेस्टिंग और ट्रैकिंग पर
महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री तानाजी सावंत ने कहा कि हम 5 पॉइंट (टेस्टिंग, ट्रैक, उपचार, टीकाकरण और COVID-उपयुक्त व्यवहार सुनिश्चित करना) दोहराएंगे। हवाई अड्डे पर 2% यात्रियों की रैंडम सैंपलिंग की जाएगी। इसके अलावा राज्य में अस्पताल में बेड्स, जरूरी स्टाफ और मेडिकल जरूरतों की व्यवस्था को पुख्ता करने का काम कर रहे हैं।

5. बिहार: सर्दी-खांसी वाले मरीजों की इलाज से पहले होगी कोरोना जांच
केंद्र सरकार के साथ ही अब बिहार सरकार भी गाइडलाइन जारी कर रही है। पहली गाइडलाइन पटना के लिए जारी हुई है। यहां सर्दी खांसी और सांस फूलने की शिकायत वाले मरीजों को अब इलाज से पहले कोरोना की जांच करानी होगी। पटना जिले के सभी अस्पतालों को गाइडलाइन जारी की गई है। इस तुरंत ही लागू कर दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग ने आने वाले दिनों में कोरोना को लेकर सख्ती बढ़ाने का संकेत दिए हैं।

6. पंजाब: केंद्र के निर्देशों का पालन का निर्देश
कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते गुरुवार को पंजाब सरकार ने बैठक की। इसमें सभी जिलों के सिविल सर्जन भी शामिल हुए। हालांकि, इस मीटिंग में कोई नई गाइडलाइंस नहीं जारी की गई हैं। लेकिन केंद्र की ओर से जारी गाइडलाइन्स का सख्ती से पालन करने की बात दोहराई गई।

7. हरियाणा: हर जिले में RT-PCR मशीन लगाई गई
हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने गुरुवार को कहा कि कोविड से निपटने के लिए हम पूरी तरह तैयार हैं। राज्य के हर जिले में RT-PCR मशीन लगाई गई है। शुरुआत में सैंपल हरियाणा से भी पुणे जांच के लिए भेजे गए थे।

8. उत्तर प्रदेश: टेस्टिंग और प्रिकॉशन डोज बढ़ाने के निर्देश
विभिन्न देशों में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कोविड प्रबंधन के लिए गठित उच्चस्तरीय टीम-9 के साथ मीटिंग की। बैठक के बाद CM योगी ने ट्वीट कर लिखा- बच्चों, बुजुर्गों व गंभीर रोग से ग्रसित लोगों का विशेष ध्यान रखें। भीड़-भाड़ वाले सार्वजनिक स्थलों पर मास्क के प्रति लोगों को जागरूक करें। इसके अलावा नए वैरिएंट पर नजर रखने और हर पॉजिटिव केस की जीनोम सीक्वेंसिंग कराए जाने के लिए भी कहा है। योगी ने अपने निर्देश में कहा कि कोविड टेस्टिंग और टीके की प्रिकॉशन डोज को बढ़ाएं। यूपी में स्थिति सामान्य है इसलिए घबराने की जरूरत नहीं है, हालांकि सतर्कता और सावधानी की जरूरत है।

उत्तरप्रदेश में कोरोना से लड़ने के लिए अफसरों की मीटिंग लेते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

उत्तरप्रदेश में कोरोना से लड़ने के लिए अफसरों की मीटिंग लेते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

9. झारखंड: अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगे
झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा- पिछली बार भारत सरकार ने कोरोना को हल्के से लिया था मगर इस बार केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने इस पर गंभीरतापूर्वक पहल की है। हमने भी हमारे विभाग के साथ बैठक की है। दूसरे देश जिस तरह से कोरोना को झेल रहे हैं, उसको देखते हुए हम पूरी तरह से तैयार हैं। हमने केंद्र सरकार के साथ बातचीत की है। चीन और ऐसे अन्य देशों से आगे की उड़ानें और अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को रोका जाना चाहिए।

10. दिल्ली: केजरीवाल बोले- हम पूरी तरह तैयार
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को मंत्रियों और अफसरों के साथ मीटिंग की। केजरीवाल ने बताया- दिल्ली में केवल 24% लोगों ने बूस्टर डोज लगवाया है। मेरा सभी से अनुरोध है कि आप सभी बूस्टर डोज लगवा लें। अभी हमारे पास 380 एंबुलेंस तैयार हैं, हमने और एंबुलेंस के लिए भी निर्देश दे दिया है। आज हमारे पास कोरोना के लिए 8000 बेड खाली हैं और अगर जरूरत पड़ी तो हम बेड की संख्या को 36 हजार तक लेकर जा सकते हैं। हमने ऑक्सीजन स्टोर करने की क्षमता भी बढ़ा ली है। भारत सरकार के सभी दिशा-निर्देशों का पालन करेंगे। हमारी तैयारी पूरी है।

दिल्ली में कोरोना को लेकर मंत्रियों और अधिकारियों के साथ बैठक करते CM केजरीवाल।

दिल्ली में कोरोना को लेकर मंत्रियों और अधिकारियों के साथ बैठक करते CM केजरीवाल।

11. कर्नाटक: मास्क को लेकर जारी करेंगे एडवाइजरी
कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के. सुधाकर ने बताया कि इनडोर, बंद और वातानुकूलित स्थानों पर मास्क अनिवार्य करते हुए एक एडवाइजरी जारी की जाएगी। अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर विदेश से आने वाले यात्रियों की औचक जांच और जांच के लिए केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा।

12. पश्चिम बंगाल: ममता ने निगरानी के लिए कमेटी बनाई
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा- हमने कोरोना को लेकर बैठक भी की थी, कमेटी गठित है जो निगरानी रख रही है। अभी बंगाल में घबराने की स्थिति नहीं है, लेकिन हम मॉनिटर कर रहे हैं, लोगों से सतर्क रहने की अपील है। गंगासागर मेला प्रत्येक वर्ष आयोजित होता है, पिछले वर्ष भी कोरोना को ध्यान में रखते हुए मेले का आयोजन हुआ था इस बार भी कोरोना को ध्यान में रखकर इसे आयोजित किया जाएगा।

संसद भवन में गुरुवार को सत्र में आने वाले सांसदों को गेट पर ही मास्क बांटा गया।

संसद भवन में गुरुवार को सत्र में आने वाले सांसदों को गेट पर ही मास्क बांटा गया।

13. केरल: राज्य में 100% टीकाकरण, चिंता की बात नहीं केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने बताया कि राज्य में कोरोना की स्थिति को लेकर सामान्य अलर्ट जारी किया गया है। फिलहाल चिंता की कोई बात नहीं है। हम जनता से सतर्क रहने की अपील करते हैं। हमने राज्य में 100% टीकाकरण किया है।

14. उत्तराखंड: मास्क की अनिवार्यता का पालन करने के निर्देश
उत्तराखंड के स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर राजेश कुमार ने सभी 13 जिलों के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों के साथ गुरुवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना की स्थिति की समीक्षा की। सभी डीएम को सलाह दी गई है कि वे जनता को मास्क की अनिवार्यता का पालन करने और वैक्सीन बूस्टर डोज लेने के लिए प्रोत्साहित करें।

भारत में घट रहे केस
केंद्र सरकार की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में लगातार कोविड केसों में कमी दर्ज की गई। अभी 153 केस रोजाना आ रहे हैं। वहीं, वीकली पॉजिटिव रेट 0.14% तक कम हो गई है। पूरी दुनिया में 5.87 लाख केस रोज दर्ज हो रहे हैं। जापान, साउथ कोरिया, यूएसए, फ्रांस जैसे देशों में कोविड से मौतों की संख्या बढ़ी है।

कोरोना से जुड़ी ये खबर भी पढ़ें…

संसद में दिखा कोरोना का असर, दोनों सदनों के स्पीकर मास्क लगाकर पहुंचे

चीन में कोरोना से हालात बदतर होते जा रहे हैं। भारत में भी सरकार अलर्ट मोड पर आ गई है। 7 दिसंबर से चल रही संसद में भी कोरोना का असर देखा गया। लोकसभा के स्पीकर आम बिड़ला और राज्यसभा के स्पीकर जगदीप धनखड़ मास्क लगाए हुए नजर आए। हालांकि, कई सांसदों ने मास्क लगाया हुआ और कई ने नहीं लगाया हुआ था। पढ़ें पूरी खबर…

संसद में स्वास्थ्य मंत्री बोले- नए वैरिएंट से चुनौती बढ़ी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने गुरुवार को संसद में देश में कोरोना के हालात पर बयान दिया। उन्होंने कहा- पिछले 3 साल में वायरस के बदलते स्वभाव ने सेहत के लिए खतरा पैदा किया है। इसने हर देश को प्रभावित किया। उन्होंने कहा कि नए वैरिएंट से चुनौती बढ़ी हैं। हर प्रॉटोकॉल का पालन करना जरूरी है। पूरी खबर पढ़ें…

Back to top button
%d bloggers like this: