POLITICS

देश बर्बाद हो जाएगा, संगठित प्रतिकार की जरूरत

रामनवमी पर भड़की हिंसा का जिक्र करते हुए राजद सांसद ने कहा कि देश के अलग-अलग सूबों में जिस तरह से हिंसा भड़की वो शर्मानाक के साथ चिंताजनक है।

लालू यादव की जनता दल से राज्यसभा सांसद मनोज झा का कहना है कि पिछले 8-9 सालों में जो नफरत का माहौल बना है, ऐसी ज़ुबान हिंदुस्तान में पहले कभी नहीं थी। इससे देश बर्बाद हो जाएगा। उनका कहना था कि ये पूरे देश की चिंता है कि आखिर दो समुदायों के बीच वैमनस्य बढ़ता जा रहा है। लेकिन मोदी सरकार मौन होकर इसे बढ़ावा देने में लगी है।

रामनवमी पर भड़की हिंसा का जिक्र करते हुए राजद सांसद ने कहा कि देश के अलग-अलग सूबों में जिस तरह से हिंसा भड़की वो शर्मानाक के साथ चिंताजनक है। मध्य काल की मान्यताओं को आज एजेंडा बनाया जा रहा है। ये सरासर गलत है। उका कहना था कि सभी दलों के साथ बीजेपी के उन नेताओं को भी ऐसी घटनाओं का प्रतिकार करना चाहिए जिनसे वैमनस्य बढ़ता जा रहा है।

मनोज झा का कहना है कि दंगे फसाद पहले भी होते थे। हमेशा से होते रहे हैं। लेकिन शांति होने के बाद दोनों समुदाय के लोग एक साथ बैठते थे। इससे विवाद के खत्म होने के आसार ज्यादा होते हैं। लेकिन अब ये सब कुछ खत्म होता दिख रहा है। उनका कहना था कि आज श्रीलंका की हालत देखकर सरकार को सबक लेना चाहिए। हमारे पड़ोस में अफगानिस्तान खोखला हो चुका है। आज चर्चा होनी चाहिए कि कैसे बेरोजगारी और महंगाई का समाधान किया जाए। लेकिन सारा देश हिंदू-मुस्लिम की तरफ बढ़ता जा रहा है।

पिछले 8-9 सालों में जो नफ़रत का माहौल बना है, ऐसी ज़ुबान हिंदुस्तान में पहले कभी नहीं थी, इससे देश बर्बाद हो जाएगा : @manojkjhadu @manakgupta #RashtraKiBaat pic.twitter.com/IJz574GXxG

— News24 (@news24tvchannel) April 11, 2022

रामनवमी के दौरान जैसी तस्वीरें आई हैं ये सब देखकर लग रहा है कि जैसे कोई ताकत धार्मिक विभेद को बड़ावा दे रही है। कभी खानपान को लहर बहस की जाती है तो कभी हिजाब को लेकर धमकी। क्या हम किसी के जीवन को अपने हिसाब से नियंत्रित कर सकते हैं।

न्यूज 24 से बातचीत में उनका कहना था कि इस सवाल का जवाब मिलना चाहिए कि आखिर ये क्या हो रहा है। उन्होंने मैथिल की एक मान्यता का जिक्र करते हुए कहा कि आज माई वे या हाई वे का सिद्धांत चलता दिख रहा है। लेकिन आज जरूरत है कि हमारे जो सिद्धांत हैं वो किसी भी तरह से बचाए जाएं। अगर ये नहीं बचे तो देश तबाह हो जाएगा।

आज पूरा देश जल रहा है मगर पीएम मोदी खामोश हैं, उनके समर्थन के बिना देश में इतने बड़े हादसे नहीं हो सकते – AIMIM प्रवक्ता @warispathan

सुमित अवस्थी @awasthis के साथ इंडिया चाहता है#JNUViolence #KarauliViolence #IndiaChahtaHai

यहां देखें : https://t.co/gXkI8bFRFA pic.twitter.com/36uNKg70mL

— ABP News (@ABPNews) April 11, 2022

देश जल रहा है और PM मोदी खामोश हैं- बोले वारिस पठान, BJP प्रवक्ता ने दिला दी ओवैसी की याद

उधर रामनवमी हिंसा पर एक टीवी डिबेट में वारिस पठान ने कहा कि देश जल रहा है और पीएम मोदी खामोश हैं। एआईएमआईएम नेता का कहना था कि पीएम के समर्थन के बिना इतने बड़े पैमाने पर ऐसे हादसे नहीं हो सकते। वारिस का कहना था कि 7 सूबों में आग लगी है। गाय बकरी की बातों को मुद्दा बनाया जा रहा है। लेकिन मोदी के मुंह में दही जमना हुआ है। उनकी बात पर बीजेपी सांसद सुधांशु चतुर्वेदी ने ओवैसी के पुराने बयानों की याद दिलाते हुए कहा कि सोची समझी रणनीति के तहत ये आग भड़काने की कोशिश की जा रही है। 1921 से देश में ये ही चल रहा है।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: