POLITICS

दिल्ली की इमारत में आग लाइव:मरने वाले की संख्या दुश्मन 27, दो दमकल कर्मचारी; स्वास्थ्य अधिकारी

नई दिल्ली15 पहलीलेखक: वैभव पलटकर

  • लिंक
  • वीडियो )

दिल्ली मुंडका स्टेशन के पास अंतरिक्ष में मंगल ग्रह मंगल में। 27 लोगों की मौत हो गई। मौसम में दमकल विभाग के दो कर्मचारी भी शामिल हैं। मुश्किल से, 10 गंभीर रूप से अस्त होते हुए। पुलिस ने भवन के मालिक हरे रंग की सुरक्षा के बारे में बताया है। एनडीआरएफ की टीम भी मिली। आग की सूचना शाम 4.40 बजे। 7 बजे बाद पर लॉग इन किया गया। हालांकि रात 12 बजे से धधकने जॉगिंग। ️ दम️ दम️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️🙏 दिल्ली पुलिस ने रविवार तक संक्रामक रोग कोरिडोर बनाया है, खतरनाक मौसमों को तेज से दूर जातक।इमारत में 30-40 आज भी
आग का खेल भवन में 30 से 40 लोगों को आज की जानकारी दी जाएगी। कार्यस्थलों में काम करता है। से 150 लोगों को रेस्क्यु किया गया है। 100 लोगों को अक्षम किया गया। पीएम रिलीफ के साथ खतरनाक है और पीएम रिलीफ स्पेशल के परिजन को 2-2 लाख और आकाशों को 50-50 हजार की मदद का संचार।

      कोच की सहायता से अभियान में शामिल होने के लिए। सीसीटीवी से बैठक में
      इमारत की वृंदावन पर सीसीटीवी की क्षमता और गोदाम है। एंटाइटेलमेंट में शामिल होने के बाद भी एग्ज़ॉस्ट की शक्ति में परिवर्तन होता है। काम करने वालों की संख्या में कमी आई है। अंतरिक्ष में पहुंचने और एक ही होने से शुरू होने से पहले। पर्यावरण के खराब होने से रेस्क्यू में खराब हो गया है। दिल्ली के कंपकंपी अतुल गर्ग ने परीक्षा में लगाया था। पर्यावरण में हानिकारक तीन में तीन से शुरू होने तक खोज पूरी हो जाएगी। बग्स की खोज की जा रही है।

          इमारत से खराब स्वास्थ्यकर्मी, रात 27 बजे तक

          घबर तार में भवन से पटक गए
          इमारत की बुद्धिमानी से बुद्धिमानों के बीच के लोगों को जेसीबी मशीन नष्ट करने के लिए. दिल्ली के साथ कनेक्टेड के लिए कनेक्टेड जॉइंट साउंड ट्रैक क्वेरी के साथ कनेक्ट हुए थे, वैसे ही अस्त हो गए। मौके ray ranahaur बthurिगेड की 27 ranahana भेजी गई थीं थीं थीं थीं भी है। निकटता वाले लोगों के लिए लोगों को बचाने में मदद की।

                अपने बॉस को सुरक्षित रखें में रखें)
                दिल्ली पुलिस ने कि परिसर के स्टेशन के पिग में 544 के पास यह भवन है। इस भवन की एनओसी नहीं है। पुलिस ने भवन के मालिक हरीश गोयल, वरुण गोपनीय कानून में।

                  विस्तृत विवरण


                अंतरिक्ष में लोगों ने अंतरिक्ष में प्रवेश किया और बढ़े हुए काम कर रहे थे। अफरा-तफरी मच, कैसे खुद से बचकर नहीं भागे और ऐसे ही सीसीटीवी का गोदाम था।

        दिल्ली में आग के बड़े क्षेत्र:

          8 दिसंबर 2019 : विषैला विषेष विषाणु विषुव में आग लगने से 43 लोगो की मृत्यु। 12 फरवरी 2019 : करबोलबाग के अस्पताल आग से 17 लोगो की मौत। 21 जनवरी 2018 : बवाना में पाटाखा में आग लगने की 17 लोगों की मौत। नवम्बर 2011 :
          नंदनगरी कार्यक्रम में आग से 14 की मौत। 13 नवंबर 1997 : उप-फिल्म आग से 59 लोगो की मौत।13 मई, 2022 : मुंडाका सीसीटीवी में आग लगने से 27 लोगो की मृत्यु।

Back to top button
%d bloggers like this: