POLITICS

दरोगा बनना चाहती थी युवती, शादी के डर से छोड़ दिया था घर, पुलिस ने समझा गुमशुदा, वो लौटी वर्दी पहनकर

यूपी के दनकौर में गायब होने के सात महीने बाद एक युवती थाने में ‘पुलिस वाली’ बनकर पहुंची। युवती पढ़ाई के लिए घर छोड़ दी थी। जिसके बाद परिवार वालों ने एक लड़के के खिलाफ केस दर्ज करा दिया था।

यूपी के नोएडा में एक ऐसा मामला सामने आया है कि पुलिस भी असलियत जानकार चौंक गई है। जिस युवती को वो सात महीने से तलाश रहे थे वो पुलिस वाली बनकर खुद थाने पहुंच गई।

मामला गौतमबुद्ध नगर जिले के दनकौर का है। एक युवती सात महीने पहले घर से भाग गई थी। परिवार वालों को शक ग्रेटर नोएडा के एक लड़के पर गया। उन्होंने लड़के के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज करा दिया कि वो उनकी बेटी को बहला-फुसलाकर भगा ले गया है। पुलिस लड़के की खोज में लग गई, साथ ही लड़की की तलाश भी जारी रही।

पिछले सात महीने से पुलिस युवती की तलाश में लगी रही कि अचानक एक दिन दनकौर पुलिस के सामने खुद लड़की हाजिर हो गई। युवती ने जब अपना परिचय दिया तो पुलिस वाले भी चौंक गए। जिस लड़की की तलाश में वो सात महीने से भटक रहे थे वो आज उनके सामने बैठी थी।

लड़की ने जो कहानी बताई वो जहां एक ओर शाबासी के काबिल है, वहीं दूसरी ओर उस लड़के के साथ अन्याय भी जिसके खिलाफ पुलिस में शिकायत दी गई थी।

युवती ने बताया कि परिवार वाले उसकी शादी कर चुके थे, लेकिन वो आगे पढ़ना चाहती थी। वो, दरोगा बनने का सपना लिए एक रात घर छोड़कर दिल्ली चली आई। उधर जब घर से लड़की गायब मिली तो परिवार वालों ने एक लड़के खिलाफ शिकायत दे दी। युवती दनकौर से निकली और दिल्ली में एक परिचित यहां पहुंच गई।

यहां रहकर उसने दिल्ली पुलिस की तैयारी की और कांस्टेबल के लिए सलेक्ट हो गई। युवती फिलहाल दिल्ली पुलिस में ही कांस्टेबल है और अपनी ड्यूटी कर रही है। पुलिस को उसने बताया कि वो अपनी मर्जी से गई थी, और जबतक दरोगा नहीं बन जाती घर नहीं जाएगी। दरोगा बनने के बाद ही वो परिवार वालों की मर्जी से शादी करेगी।

युवती ने पुलिस में अपना बयान दर्ज कराया और वापस अपनी ड्यूटी के लिए दिल्ली वापस आ गई। दनकौर पुलिस ने कहा है कि वे मामले की जांच करेंगे, लेकिन महिला एक वयस्क है, जिससे वो अपने फैसले खुद ले सकती है।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: