POLITICS

तीन घंटे में गंभीर चक्रवाती तूफान में तब्दील हो सकता है ‘तौकते’, 5 राज्यों में बचाव दल तैनात

तीन घंटे में गंभीर चक्रवाती तूफान में तब्दील हो सकता है 'तौकते',  5 राज्यों में बचाव दल तैनात

Cyclone Tauktae: NDRF ने 5 राज्यों के लिए 53 दल किए तैयार

नई दिल्ली:

Cyclone Tauktae: अरब सागर में बन रहे चक्रवात ‘तौकते’ अगले तीन घंटों में विकराल रूप ले सकता है, मौसम विभाग ने मंगलवार सुबह तक इसके गुजराट तट पर टकराने की संभावना जताई है. मौसम विभाग ने कहा है कि चक्रवाती तूफान तौकते के अगले तीन घंटे के भीतर “गंभीर चक्रवाती तूफान” में तब्दील होने की आशंका है. यह मंगलवार तक गुजरात तट से टकरा सकता है. गुजरात और दीव के समुद्र तट चक्रवात को लेकर निगरानी में हैं. भारत में यह इस साल का पहला चक्रवाती तूफान है. चक्रवाती तूफान को लेकर गुजरात और दीव तटों के लिए पीला अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग के मुताबिक इसके अगले तीन घंटों के दौरान एक गंभीर चक्रवाती तूफान में और उसके बाद के 12 घंटों के दौरान बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंका है. इसके उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और 18 मई की सुबह गुजरात तट पर पहुंचने के आसार हैं. तूफान के 18 मई को दोपहर या शाम तक पोरबंदर और नलिया के बीच गुजरात तट को पार करने की प्रबल संभावना है.

चक्रवाती तूफान तौकते पूर्व मध्य और आसपास के दक्षिण-पूर्व अरब सागर के ऊपर पिछले छह घंटों के दौरान लगभग 13 किलोमीटर प्रति घंटे की गति के साथ उत्तर की ओर बढ़ गया. वह आज 11:30 बजे पंजिम-गोवा से 290 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम  में मुंबई से 650 किमी दक्षिण-दक्षिण पश्चिम, वेरावल (गुजरात) से 880 किमी दक्षिण-दक्षिण-पूर्व में केंद्रित था. 

गुजरात के अलावा दीव के तटीय इलाके इस चक्रवात के दायरे में हैं. जहां भारत एक तरफ कोविड जैसे महामारी की दूसरी लहर के प्रकोप से घिरा हुआ है, वहीं इस चक्रवाती तूफान ने चुनौतियों को और बढ़ा दिया है. अगले 24 घंटों में इसके बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल जाने की संभावना है. इस चक्रवात को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तैयारियों का जायजा लेने के लिए शनिवार को एक महत्वपूर्ण बैठक करेंगे. इससे निपटने के लिए NDRF ने 53 टीमों को तैयार किया है. जिनकी तैनाती पांच राज्यों केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, गुजरात और महाराष्ट्र में की जा रही है.

— ѕαtчα prαdhαnसत्य नारायण प्रधान ସତ୍ଯପ୍ରଧାନ-DG NDRF (@satyaprad1) May 14, 2021

केरल सरकार ने संभावित चक्रवाती तूफान के मद्देनजर अस्पतालों का भंडार बढ़ाने के लिए आसपास के भंडारों से राज्य में तत्काल कम से कम 300 मीट्रिक ट्रन ऑक्सीजन भेजने की अपील की है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजे पत्र में केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा कि भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने 14-15 मई के दौरान चक्रवाती तूफान की चेतावनी दी है और राज्य के कई हिस्सों में भारी वर्षा एवं तूफान का अनुमान लगाया है. 

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ की चेतावनी के मद्देनजर बृहन्मुंबई महानगरपालिका के अधिकारियों ने कोविड-19 टीकाकरण अभियान को अगले दो दिन के लिए स्थगित करने का फैसला किया है. बृहन्मुंबई महानगर पालिका ने शुक्रवार को ट्वीट कर यह जानकारी दी, जिसके मुताबिक मुंबई में 15 और 16 मई को टीकाकरण अभियान स्थगित रहेगा. 

लक्षद्वीप के निचले इलाकों में बाढ़ की संभावना है, जिसको देखते हुए मौसम विभाग ने विभिन्न हिस्सों में रेड और ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. मछुआरों को जहां मंगलवार तक अरब सागर में जाने से मना किया गया है तो वहीं यहां की पर्यटन गतिविधियों को प्रतिबंधिंत कर दिया गया है. नौसेना को समुद्र में संचालन के दौरान सावधानी बरतने की सलाह दी गई है. इस चक्रवात के कारण तमिलनाडु और राजस्थान के कुछ इलाकों में तेज बारिश की भी संभावना है. चक्रवात ‘तौकते’ को देखते हुए नौसेना के जहाज विमान, हेलीकॉप्टर, गोताखोरी और आपदा राहत दल तैयार हैं. 


 

#CycloneTauktae


Update 1


Deep depression 240 Nm NW off Kochi on 14th evening very likely to intensify into a cyclonic storm Tauktae by 15th morning#IndianNavy ships, aircraft, helicopters, diving and disaster relief teams standby… (1/2)@SpokespersonMoD@DefenceMinIndiapic.twitter.com/mJRLb9fgyk

— SpokespersonNavy (@indiannavy) May 14, 2021

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) और इन तटीय राज्यों द्वारा जारी किए कुछ परामर्शों के अनुसार दक्षिण अरब सागर और लक्षद्वीप इलाके में बृहस्पतिवार को दबाव का क्षेत्र बन गया है. IMD ने अपनी चेतावनी रिपोर्ट में कहा, ‘‘यह शनिवार सुबह तक इसी क्षेत्र में गहरे दबाव के क्षेत्र में बदल जाएगा और उसके बाद अगले 24 घंटों में चक्रवाती तूफान का रूप ले लेगा.” उसने बताया कि इसके उत्तर-उत्तरपश्चिम गुजरात और पाकिस्तानी तटों की ओर बढ़ने की संभावना है. आईएमडी ने बताया कि यह 18 मई की शाम तक गुजरात तट के नजदीक पहुंच सकता है. इस चक्रवात को ‘तौकते’ नाम म्यांमा ने दिया है. यह भारतीय तट पर इस साल पहला चक्रवाती तूफान होगा.

चक्रवात को लेकर जारी चेतावनी के बाद कई ट्रेनें रद्द

Due to the cyclone warning in coastal Gujarat region on May 17 & May 18, many trains will be cancelled/short terminated: Western Railway pic.twitter.com/EMxWIfGjVK

— ANI (@ANI) May 15, 2021

कोच्चि में चेल्लानम पंचायत में बाढ़ प्रभावित गांवों मालाघापडी, कंपनीपाडी और मरुवक्कड़ में एनडीआरएफ ने आईएनएस द्रोणाचार्य के साथ मिलकर लोगों की मदद की.

Three Navy diving teams from Southern Naval Command swung into action along with one Quick Reaction Team from INS Dronacharya to providing assistance to flood hit villages of Malaghapady, Companypadi, and Maruvakkad in Chellanam panchayat at Kochi: Indian Navy pic.twitter.com/gTMwb0kwO8

— ANI (@ANI) May 15, 2021

Back to top button
%d bloggers like this: