POLITICS

डाइटिशियन ऋजुता दिवेकर से जानें Diabetes कंट्रोल करने के 5 आसान डाइट टिप्स

  1. Hindi News
  2. हेल्थ
  3. डाइटिशियन ऋजुता दिवेकर से जानें Diabetes कंट्रोल करने के 5 आसान डाइट टिप्स

Diabetes Diet Tips: ऋजुता दिवेकर बताती हैं कि मधुमेह रोगियों के लिए सुबह की शुरुआत ताजे मौसमी फलों के साथ बादाम खाना चाहिए

जनसत्ता ऑनलाइन
Edited By tanya jha

August 2, 2021 3:51 PM

डायबिटीज रोगियों को स्नैक्स के रूप में मूंगफली खाने की सलाह देती हैं ऋजुता

Diabetes Control Tips: डायबिटीज एक क्रॉनिक बीमारी है जिससे भारत में लाखों लोग ग्रस्त होते हैं। ये मेटाबॉलिक डिसॉर्डर के कारण होने वाली बीमारी है जिसमें इंसुलिन प्रोडक्शन कम या न के बराबर होता है। इस वजह से उच्च रक्त शर्करा की स्थिति बनती है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक डायबिटीज की जटिलताओं को कम करने के लिए नियमित व्यायाम और स्वस्थ आहार लेना जरूरी है। ऐसे में आइए जानते हैं मशहूर डाइटिशियन ऋजुता दिवेकर से कि मधुमेह रोगियों को डाइट संबंधी किन बातों का ध्यान रखना चाहिए –

सुबह की शुरुआत ऐसे करें: ऋजुता दिवेकर बताती हैं कि मधुमेह रोगियों के लिए सुबह की शुरुआत ताजे मौसमी फलों के साथ बादाम खाना चाहिए। उनके मुताबिक रात भर के भूखे मरीज अगर समय से कुछ नहीं खाएंगे तो उनका ब्लड शुगर बढ़ सकता है। वहीं, उठने के साथ चाय-कॉफी पीने से बचना चाहिए।

इतने समय तक कर लें लंच: दिवेकर के अनुसार वैसे डायबिटीज के मरीज को दवा खाते हैं, उन्हें कब्ज जैसी पाचन संबंधी दिक्कतें हो सकती हैं। ऐसे में समय पर खाना खा लेना बहुत जरूरी है। उनके मुताबिक मधुमेह रोगियों को 11 से 1 बजे के बीच दोपहर का भोजन कर लेना चाहिए। साथ ही, वो कहती हैं कि फुल फैट कर्ड से बने छाछ का सेवन भी करना चाहिए।

डाइट में शामिल करें मूंगफली: डायबिटीज रोगियों को स्नैक्स के रूप में मूंगफली खाने की सलाह देती हैं ऋजुता। दोपहर या शाम के वक्त इसे खाना चाहिए। बता दें कि पीनट अमीनो एसिड्स का बेहतरीन स्रोत होता है और इसमें फाइबर भी भरपूर मात्रा में होता है जो पेट को लंबे समय तक भरा रखता है।

चीनी का क्या है हिसाब: ऋजुता के मुताबिक डायबिटीज रोगियों को इस बात को समझना चाहिए ये बीमारी उच्च रक्त शर्करा की परेशानी से काफी ऊपर है। उनके नुसार मरीजों के लिए असली खतरा बॉडी सेल्स हैं जो किडनी, हार्ट और नसों से संबंधित परेशानियों का कारण बन सकता है। वो कहती हैं कि आर्टिफिशियल शुगर या स्टेविया के अधिक इस्तेमाल से बेहतर होगा कि वो चाय-कॉफी में एक चम्मच चीनी मिला लें।

व्यायाम का भी रखें ध्यान: इंसुलिन सेंसेटिविटी को बेहतर करने के लिए व्यायाम अति आवश्यक है। ऋजुता की मानें तो सप्ताह में कम से कम दो बार वेट ट्रेन जरूर करें।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: