POLITICS

“…जो 1500 हिंदू मारे गए, उनके लिए आंसू कौन बहाएगा” : ‘द कश्मीर फाइल्स’ पर NDTV से असदुद्दीन ओवैसी

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि फिल्म देखकर लोग मुसलमानों के खिलाफ वीडियो क्यों बन रहे हैं. (File Photo)

नई दिल्ली:

बॉलीवुड की फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ (The Kashmir Files) रिलीज होने के बाद से ही सुर्खियां में बनी हुई है. एक तरफ जहां कई लोग इस फिल्म को खूब पसंद कर रहे हैं तो वहीं कई लोगों ने फिल्म के प्रति नाराजगी भी जाहिर की है. इतना ही नहीं, कई राज्यों ने फिल्म को टैक्स फ्री भी कर दिया है. इस बीच AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने भी फिल्म को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है.

Kashmir Files मूवी पर AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने दी प्रतिक्रिया pic.twitter.com/WHKtrLrP2F


— NDTV India (@ndtvindia) March 16, 2022

एनडीटीवी से बातचीत करते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि फिल्म देखकर लोग मुसलमानों के खिलाफ वीडियो क्यों बन रहे हैं. क्यों मुसलमानों के खिलाफ नफरत को बढ़ावा दिया जा रहा है. कितने वीडियो सोशल मीडिया पर पड़े हैं, जिनमें सिनेमा हॉल में कोई भी खड़े होकर मुसलमानों के खिलाफ भाषण दे रहा है, ऐसा क्यों. 

उन्होंने कहा कि यकीनन कश्मीर में कश्मीरी पंडितों को मारा गया. 209 लोगों को मारा गया, मेरे पास नाम हैं पूरे, जिन्हें मैं मुहैया करा सकता हूं. मगर जो 1500 हिंदू मारे गए, जो कश्मीरी पंडित नहीं थे, जो डोगरा इलाके के थे, उनके लिए कौन आंसू बहाएगा. देश के प्रधानमंत्री को फिल्म देखकर कश्मीरी पंडितों की तकलीफ याद आई. सात साल से सरकार में हैं. 

ओवैसी ने कहा कि मैंने लोकसभा में खड़े होकर कहा आप जांच आयोग एक्ट के तहत स्वतंत्र जांच आयोग बनाइए, दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. कितने कश्मीरी पंडितों ने पलायन किया और क्यों किया. जनवरी 16-17 से पहले क्या हुआ था, ये बता दीजिए. सात साल की ये सरकार बता दे कि कितने कश्मीरी पंडितों को आप वापस लेकर गए वादी (कश्मीर) में, कितनों को आपने ठहराया. आप नफरत क्यों फैला रहे हैं. 

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि आप कश्मीरियों के खिलाफ नफरत फैला रहे हैं और जब नरसंहार की बात हो रही तो क्या असम के साढे 3-4 हजार मुसलमानों के नहीं मारा गया. क्या मुरादाबाद में कांग्रेस की सरकार थी तब 500 से ज्यादा मुसलमानों को पुलिस ने गोली मारकर उनका कत्ल नहीं किया, वो नरसंहार नहीं था. उसकी भी बात होनी चाहिए उसका भी जिक्र आना चाहिए. नरसंहार तो सब जगह हुआ है. 

यह भी पढें:

कश्मीर फाइल्स की वजह दिल्ली में सुरक्षा के चौकस बंदोबस्त, सभी डीसीपी को किया गया सतर्क

‘द कश्मीर फाइल्स’ देखने के लिए असम में कर्मचारियों को मिलेगी आधे दिन की छुट्टी, सीएम हिमंता बिस्वा सरमा ने किया ऐलान

Kashmir Files: शो के दौरान नोएडा के GIP मॉल में हंगामा, लोगों ने फिल्म को बीच में रोकने का आरोप लगाया

फिल्म ‘कश्मीर फाइल्स’ को लेकर केरल कांग्रेस के ट्वीट से विवाद उपजा

Back to top button
%d bloggers like this: