POLITICS

जैश कमांडर और पुलवामा हमले का साजिशकर्ता मुठभेड़ में ढेर, जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी

जैश कमांडर और पुलवामा हमले का साजिशकर्ता मुठभेड़ में ढेर, जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी

श्रीनगर:

जम्मू-कश्मीर से आतंकियों (Jaish E Mohammad Terrorist Encounter) के सफाये के अभियान में सुरक्षाबलों को एक और बड़ी कामयाबी मिली है. सुरक्षाबलों ने घाटी के पुलवामा जिले में दो आतंकियों को ढेर कर दिया है.सुरक्षाबलों ने जैश ए मोहम्मद के टॉप कमांडर और पुलवामा हमले (Pulwama Attack)  की साजिश में शामिल आतंकी मोहम्मद इस्माल अल्वी उर्फ लंबू को मार गिराया है. पुलिस का कहना है कि दोनों जैश ए मोहम्मद सरगना मसूद अजहर के परिवार से ताल्लुक रखते हैं. इस्माल एक पाकिस्तानी है, जो इस मुठभेड़ में मारा गया है. उसका नाम एनआईए की चार्जशीट में भी है. 

कश्मीर जोन पुलिस ने ट्वीट कर शनिवार को बताया कि पुलवामा के नागबेरन-तारसारके जंगलों में एक मुठभेड़ के दौरान इन दो आतंकियों को मार गिराया. पुलिस औऱ सुरक्षाबल कांबिंग अभियान चला रहे हैं. इनमें एक आतंकी पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद का टॉप कमांडर लंबू भी था. जम्मू-कश्मीर पुलिस के महानिदेशक विजय कुमार ने कहा कि दूसरे आतंकी की पहचान भी की जा रही है. 

Topmost Pakistani terrorist affiliated with proscribed terror outfit Jaish-e-Mohammed (JeM) Lamboo was killed in today’s encounter. Identification of second terrorist being ascertained: IGP Kashmir Vijay Kumar to ANI pic.twitter.com/l94dXBZB1F

— ANI (@ANI) July 31, 2021

IGP Kashmir Vijay Kumar ने कहा कि जैश के दो आतंकी इस मुठभेड़ में मारे गए. इनमें से एक लंबू 2019 के जुनैदपुरा हमले में भी शामिल था.कश्मीर जोन पुलिस के ट्वीट के मुताबिक, सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों की जानकारी मिलने पर शनिवार सुबह नामिबियान और मारसार वनक्षेत्र और दाचीगाम के इलाके में घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू किया.लेकिन तलाशी कर रहे दल पर आतंकवादियों ने गोलियां चलाई. इसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की जिसमें दो आतंकवादी मारे गए. मारे गए आतंकवादियों की पहचान की जा रही है और वे किसी आतंकवादी समूह से जुड़े थे, इस बारे में पता लगाया जा रहा है.

गौरतलब है कि घाटी में इस साल सुरक्षाबलों को आतंकियों के खिलाफ बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. इस साल अब तक 50 के करीब आतंकवादियों को सुरक्षाबलों औऱ जम्मू-कश्मीर पुलिस ने मिलकर ढेर किया है. इनमें जैश ए मोहम्मद, लश्कर ए तैयबा और कुछ अन्य स्थानीय संगठनों के आतंकी शामिल हैं. सुरक्षाबलों के साथ जांच एजेंसियों ने जम्मू एयरबेस स्टेशन पर ड्रोन हमले के बाद से टेरर फंडिंग पर भी शिकंजा कसना शुरू कर दिया है.

Back to top button
%d bloggers like this: