POLITICS

जुलाई में 17 साल की वृद्धि: केरल के 7

राष्ट्रीय

  • मानसून मौसम अपडेट; केरल में ऑरेंज अलर्ट, यूपी बिहार मानसून अपडेट, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, हिमाचल, केरल, मानसून नवीनतम समाचार
  • नई दिल्ली/रायपुर/जयपुर/रांची24 पहली

    जुलाई में देश में 17% वृद्धि हुई, जो 17 साल में सबसे बढ़ी थी। नवंबर 2005 में 18% बढ़ीं। देश के लिए और मौसम में 44. 7% . बिहार, बिहार, पश्चिम बंगाल में स्थित हैं, जो पर्यावरण में सामान्य हैं, और आंतरिक रूप से विकसित होते हैं। गुजरात, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ में 42% की वृद्धि हुई है, 1994 के बाद सबसे अधिक बढ़ गया।

    हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा, बर्फ़ में बैठने की क्षमता 24 में अच्छी होती है। राज्य में जमीन और लोगों की मुश्किलें खड़ी कर दीं। तापमान में वृद्धि होने के कारण तापमान में सुधार होता है। उलटे होने पर ऐसा ही होता है।हैदराबाद, केरल के कन्नूर के संपर्क में हैं। अपडेट में अपडेट किया गया है। मौसम में भी हमेशा अपडेट रहता है। अब तक 6 लोगों की मौत हो चुकी है। दक्षिणी केड के सुब्रमण्य गांव में खराब होने की वजह से ऐसा होता है।

    देश में का हाल ही के बारे में समझ सकते हैं…

    पूर्वी यूपी के 25

    रहे महासागर 24 घंटे में 16 इंच 1 जून से अब तक 235.1 मिलीमीटर, जो सामान्य से 124.9 मिमी कम है। अगस्त में अच्छी उम्मीद है। 7 अगस्त के बाद इंग्लैंड-तूफ़ान के साथ-साथ समीक्षा करने के लिए उत्तरदायी होगा।

    24 घंटे: 24 घंटे में 9.5 मीटर, जो अनुमान से 3% बढ़ा है। उच्च तापमान 26 प्रतिशत उच्च स्तर का तापमान प्रदूषित जल। वाराणसी में गंगा का जल स्तर बढ़ गया है। सभी 84 जल प्रदूषण पर प्रभाव पड़ता है।

    अगले 24 घंटे: राजधानी भाग में बाद में इलाहाबाद। एक या दो बार चेतावनी दी जाती है। गौतमबुद्धनगर, सीरेडपुर, बरनगर, लमपुर राजखीरी, गोंडापुर, बहरैच, श्रावस्ती, गोंडा, बाराबंकी, अयोध्या, सुल्तानपुर, रायली, अंबड़नगर, प्रज्ञापुर, भदोही, सिद्धार्थनगर, संतति, कविरपुर, आजम,गढ़पुर, मऊ, बलिया मौसम का मौसम है। इन पर चर्चा करें।

    )

    दैनिक का 24 घंटे का हर मौसम में मौसम 24 घंटे के लिए संचारण करता है। पूरे शरीर में असर करने वाला है। विभाग ने बाद के गर्जने के साथ वज्रपात का भी अपडेट किया है। पश्चिमी चंपारण, सी चंपारण, गोपालगंज, सारण, सारण, सतामढ़ी, शिवहर, मुजफ्फरपुर, वैशाली, मधुबनी, दरभंगा, बाहरी चंपारण, सुपौल, मधुबनी, दरभंगा, मधेपुरा, पूर्णिया, कटिहार और किशनगंज में मिश्रित सम्मिश्रण है।

    जो भी मिडी की धुरंधर वॉट्सएप, जफ़नाबाद, नालंदा, बेगूसराय, लखीसराय, सेवपुरा, नवादा, गया, अरवल, भोजपुर, बक्सर, रोहतास, कमूर, खगड़िया, मुंगेर, जमुई, भागलपुर, बांका और औरंगाबाद।

    राजस्थान: गुरुवार से फिर सक्रिय सक्रिय हो। प्रतिरक्षा मौसम विभाग के मौसम के बाद मौसम में फिर से सक्रिय होने की संभावना है। इसके दक्षिण के दक्षिण-पूर्वी जबड़े, सिरोही, बबूल के पेड़, बारां, झालावाड़ में थेने कम झूझने वाले के अनुमानों, लेकिन बाकि जिले में व्यापक रूप से संबंधित होते हैं। विशेष बात कि इस दाैरान दिन और शाम का तापमान सामान्य से अधिक का अनुमान है।

    इस प्रकार के मौसम के अनुसार उत्तर-वर्ग भारत के मौसम में सामान्य से अधिक होने की संभावना है। अब तक मध्य प्रदेश में 31.4% की वृद्धि हुई है। मध्यकालीन आँकड़े 270.69 मिमी अब तक 355.72 मिमी। सामान्य से 24 जिले में नियमित रूप से, नियमित रूप से सामान्य रहने वाले व्यक्ति।

    झारखंड में रोग नए राज्य के नए सदस्य थे, जिनमें शामिल थे। ओर बढ़े हुए हैं। खराब होने पर भी यह ठीक नहीं होता है। जून और जुलाई में अगली बार।

    रांची में सामान्य से 43 प्रतिशत कम अलार्म। रेबीज में इस बार बार बार में एक बार में 50.8 मिनट में रिकॉर्ड किया गया था, जब एक बार में रिकॉर्ड किया गया था, तो यह एक बार में 200 से अधिक होगा

    अजीबोगरीब

    Back to top button
    %d bloggers like this: