POLITICS

छत्तीसगढ़ : रायपुर में बनाई गई पहली क्रिमिनल गैलरी, आसानी से होगी अपराधियों की धरपकड़

छत्तीसगढ़ : रायपुर में बनाई गई पहली क्रिमिनल गैलरी, आसानी से होगी अपराधियों की धरपकड़

क्रिमिनल गैलरी का डिजिटल वर्जन तैयार करने की भी तैयारी है.

रायपुर:

आर्ट गैलरी का नाम तो आपने सुना ही होगा और उसका अवलोकन भी किया होगा लेकिन आज हम आपको देश की पहली क्रिमिनल गैलरी (Criminal Gallery) के बारे बता रहे है. दरासल छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर (Raipur) में अपराधियों की फोटो गैलरी तैयार की गई है. जिसमें  पुलिस ने अपराध के अलग-अलग सेक्शन के अनुसार अपराधियों की तस्वीर लगाई है. इसमें फोटो के साथ इन क्रिमिनलों का रिकॉर्ड भी तैयार किया गया है, जिसमें सभी अपराधियों की पूरी जानकारी होगी. इस क्रिमिनल गैलरी के जरिये पीड़ितों को अपराधियों (Criminals) की पहचान करने में मदद मिलेगी.

बता दें ये गैलरी है, लेकिन यहां कलाकृतियां नहीं बल्कि क्रिमनलों के रिकॉर्ड रखे गये है. यहां लोग फ्रॉड क्राइम से बचने के लिये क्रिमिनल गैलरी में जाकर अपराधियों की पहचान कर सकते है अपराधी के शिकार होने से बच सकते है. रायपुर की इस क्राइम गैलरी ब्रांच जहां अपराधियों की तस्वीर और उनकी पूरी जानकारी है.

रायपुर के  एसएसपी  प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि क्राइम यूनिट में क्रिमिनल गैलरी तैयार की गई जिसका उद्देश्य क्राइम को रोकना है.  उन्होने कहा चोरी,डकैती नकबजनी में अपराधी को किसी न किसी ने देखा होता है क्रिमिनल गैलरी के जरिये उसकी पहचान कराई जा सकती है.  क्रिमिनल गैलरी के बारे में पहले कभी नही सुना. छत्तीसगढ़ में ये देश में की पहली क्रिमिनल गैलरी है. 

क्रिमिनल गैलरी के इंचार्ज गिरीश तिवारी ने बताया कि क्रिमिनल गैलरी का डिजिटल वर्जन तैयार करने की भी तैयारी है. अपराधी डिटेक्शन में इस डेटाबेस का उपयोग किया जाएगा ओर लोगों को यहां लाकर दिखाया जायेगा. उन्होने बताया कि क्रिमिनल गैलरी में अपराधी की पहचान करवाई जाएगी जिससे घटनाओं की रोकथाम हो सके. क्रिमिनल भी अपनी फोटो लगी होने की वजह से क्राइम करने से खुद की दूरी बनाएंगे. 

ये  क्रिमिनल गैलरी पुलिस का इनोवेशन है. नेक  मकसद से शुरू की गई ये क्रिमिनल गैलरी से अपराध रोकने और अपराधी के अपराध छोड़ने में कितनी मदद मिलती है ये तो वक़्त ही बताएगा. 


Back to top button
%d bloggers like this: