POLITICS

छठ पूजा पर दिल्ली की यमुना नदी में जहरीले झाग के बीच महिलाओं ने किया स्नान, देखें मीम्स

छठ पूजा पर दिल्ली की यमुना नदी में जहरीले झाग के बीच महिलाओं ने किया स्नान, लोग बोले- बादल ज़मीन पर...

छठ पूजा पर दिल्ली की यमुना नदी में जहरीले झाग के बीच महिलाओं ने किया स्नान

छठ महापर्व (Chhath puja) की शुरुआत हो गई है, लेकिन दिल्ली (Delhi) से छठ पूजा से जुड़ी जो तस्वीरें सामने आई हैं वो दिल को दहलाने वाली हैं. यमुना ने जहरीला झाग इकटट्ठा हुआ है, इसी के बीच महिलाएं यहां स्नान करती दिखीं, हालांकि कोरोना के चलते डीडीएमए ने यमुना नदी (Yamuna River) के किनारे छठ पूजा की अनुमति नहीं दी है. न्यूज एजेंसी ANI ने इससे जुड़ी तस्वीरें और वीडियो शेयर किया है, जिसमें लिखा है कि यमुना नदी में तैरते जहरीले झाग के बीच स्नान करते श्रद्धालु. ये कालिंदी कुंज के पास की तस्वीरें हैं. रिपोर्ट्स की मानें तो पड़ोसी राज्यों द्वारा पराली जलाने और दिवाली पर हुई आतिशबाजी के चलते दिल्ली की हवा प्रदूषित हो गई है. यमुना में भी अमोनिया का स्तर बढ़ गया है.

देखें Photos:

People take dip in Yamuna river near Kalindi Kunj in Delhi on the first day of #ChhathPuja amid toxic foam pic.twitter.com/nrmzckRgdq

— ANI (@ANI) November 8, 2021

यमुना नदी की ऐसी हालत पर यहां आने वाले श्रद्धालु निराशा व्यक्त कर रहे हैं. लोगों का कहना है कि इससे हमें बहुत परेशानी हो रही है. इससे बीमारियां भी हो सकती हैं, लेकिन हम असहाय हैं. पानी की सफाई और घाट बिहार में बहुत बेहतर हैं. दिल्ली सरकार को ये सुनिश्चित करना चाहिए कि घाटों की सफाई हो.

Charo taraf baadal hi baadal

— Dipanshu (@dipanshucp) November 8, 2021

No need of soap..

— Bhaskar (@bhaskarvh) November 8, 2021

Baadal Zameen per

— sidha_memer (@Sidha_memer) November 8, 2021

Delhi mai snowfall ka maja 😅😂

— Prasun Mehra (@mehra_prasun) November 8, 2021

#WATCH | People take dip in Yamuna river near Kalindi Kunj in Delhi on the first day of #ChhathPuja in the midst of toxic foam pic.twitter.com/uMsfQXSXnd

— ANI (@ANI) November 8, 2021

बता दें कि छठ पूजा सूर्य भगवान को समर्पित है और मुख्य रूप से यह बिहार, झारखंड और उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्रों के लोगों द्वारा मनाई जाती है. इस चार दिवसीय उत्सव में नदियों और तलाबों में डुबकी लगाई जाती है, सूर्य को अर्घ्य दिया जाता है. इस साल छठ पूजा की शुरुआत आज यानी 8 नवंबर से नहाई खाई के साथ शुरू हुई और 11 नवंबर को उगते सूरज को अर्घ्य देने के साथ संपन्न होगी.


Back to top button
%d bloggers like this: