POLITICS

क्या बर्फ लगाने से कम हो जाते चेहरे के कील-मुंहासे? जानिये 5 घरेलू उपाय

कील-मुंहासे ऐसे समस्या है जिससे ज्यादातर लोग परेशान हो जाते हैं। क्योंकि इससे चेहरे पर गड्ढे भी हो जाते हैं। इसे ठीक करने के लिए आप ये घरेलू उपाय भी कर सकते हैं।

कील-मुंहासे ऐसे समस्या है जो अक्सर लोगों को परेशान करती है। इसका ज्यादातर सामना महिलाओं को करना पड़ता है। कील-मुंहासे के कई कारण हो सकते हैं, लेकिन एक मुख्य कारण होता है- हार्मोनल चेंज। किसी-किसी के चेहरे पर इसका गहरा असर नजर आता है। कई बार लगातार हो रहे कील-मुंहासों से चेहरे पर गड्ढे भी पड़ जाते हैं। ऐसे में आप कुछ घरेलू उपाय भी कर सकते हैं, जिससे चेहरे पर पड़ने वाले कील-मुंहासों से कुछ राहत जरूर मिल सकती है।

चर्म रोग विशेषज्ञ डॉक्टर जयश्री शरद के मुताबिक, बर्फ का इस्तेमाल करने से चेहरे पर पड़ने वाले कील-मुंहासों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। जयश्री कहती हैं, ‘कील-मुंहासों के बाद होने वाले गड्ढों का कोई ऐसा दरवाजा नहीं होता है जो खुल जाता है या बंद हो जाता है। इसलिए बर्फ लगाने से इस पर किसी भी प्रकार को कोई प्रभाव नहीं पड़ता है।’

क्या उपाय कर सकते हैं? एक्सपर्ट्स की मानें तो कील-मुहासों से बचने के लिए आपको दिन में 8-10 गिलास पानी रोज़ाना पीना चाहिए। क्योंकि पानी से शरीर में मौजूद वेस्ट प्रोडक्ट किडनी के रास्ते होते हुए मूत्र मार्ग से बाहर आ जाते हैं। पेट के साफ रहने पर भी कील-मुंहासे नहीं होते हैं। इसके अलावा बेकिंग सोडा का इस्तेमाल भी किया जा सकता है क्योंकि इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं और ये कील-मुंहासों को कम करने में काफी मदद करता है।

चेहरे को रोज साफ करना चाहिए, इसके लिए आप फेस वॉश इस्तेमाल कर सकते हैं। स्किन की सफाई के दौरान हल्के हाथों से स्किन मलें नहीं तो ज्यादा रगड़ कर साफ करने से स्थिति और बिगड़ सकती है। रोज सुबह, एक्सरसाइज के बाद और सोने से पहले हल्के हाथों से फेस वॉश लगाकर चेहरा धोंए। सलाद और फलों का सेवन ज्यादा से ज्यादा करें, इससे आपकी शरीर का पाचन तंत्र ठीक तरीके से काम करने लगता है।

चेहरे पर होने वाले कील-मुंहासों से छुटकारा पाने के लिए आप हल्दी-चंदन का लेप लगाएं। खाने में नींबू का इस्तेमाल कर सकते हैं। कुछ लोगों में डेयरी उत्पाद से मुंहासे तेजी से बढ़ने लगते हैं, लेकिन, सबको ऐसी शिकायत हो, ऐसा नहीं है। खासतौर से लो-फैट डेयरी उत्पाद तो फुल क्रीम उत्पादों से भी ज़्यादा ख़तरनाक होते हैं।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: