POLITICS

एसडीएम पिंकी मीणा घूसखोरी केस: 4 दिन तक पिंकी अथर्वत के लिए मोलभाव करती रही, यह सब दर्ज है एसीबी के डिजिटल वॉयस रिकॉर्डर में; पढ़िए हुबहू सहभागिता ।।

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बांदीकुई SDM पिंकी मीणा को ACB ने रिश्वत लेते गिरफ्तार किया था। 65 दिन जेल में रहने के बाद वह अभी जमानत पर बाहर हैं। - Dainik Bhaskarबांदीकुई SDM पिंकी मीणा को ACB ने रिश्वत लेते गिरफ्तार किया था। 65 दिन जेल में रहने के बाद वह अभी जमानत पर बाहर हैं। - Dainik Bhaskar बांदीकुई एसडीएम पिंकी मीणा को ACB ने आरोपित किया था। 65 दिन जेल में रहने के बाद वह अभी जमानत पर बाहर हैं।

  • आरोप्वत मांगने की शिकायत मिलने पर एसीबी ने शिकायत करने वाले को डिजिटल वॉयस रिकॉर्डर देकर मेना के पास भेज दिया था
  • एसीबी ने 4000 पेज की चार्जशीट में पिंकी मीणा के साथ शिकायतकर्ता की 4 बार की रिकॉर्ड की गई बातचीत का ब्योरा दिया है

राजस्थान के हाई प्रोफाइल पिंकी मीणा घूसखोरी मामले में रोज नई कहानियां सामने आ रही हैं। बांदीकुई की एसडीएम पिंकी मीणा पहली बार घूस मांगते हुए डर गई थी। मीणा ने आरोप्वत की राशि पहले मुँह से बोलकर नहीं, बल्कि कागज पर लिखकर पूछा था। चार्जशीट में शिकायतकर्ता और पिंकी मीणा के बीच रिकॉर्ड की गई बातचीत का पूरा विवरणरा है। शिकायत मिलने के बाद एसीबी ने मीना को ट्रैप करने के लिए शिकायत करने वाले को डिजिटल वॉयस रिकॉर्डर के साथ पिंकी के साथ भेज दिया। इसमें सबसे पहले 18 दिसंबर 2020 को हुई बातचीत का असर है। यह बातचीत में पिंकी यह भी कह रही है कि पहले उसे समझ ही नहीं आया था कि पैसा कैसे लेना है। इसलिए 6 लाख बताए गए थे। अब 10 लाख रुपए देने होंगे।

जिस दिन (13 जनवरी) पिंकी मीना को ट्रैप किया गया, उस दिन वह दिनभर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की वीसी में थी। इसके बावजूद, बीच में समय निकालकर रिश्वत की बात करने के लिए बाहर आ गया। उसने पहले तय हुई रकम खुद न की जयपुर में हाईवे कंपनी के प्रतिनिधि अमित को देने की बात कही। उस दिन मुख्यमंत्री की वीसी नहीं होती, तो पिंकी वहीं पर रिश्वत की रकम ले लेती।

18 दिसंबर को हुई पिंकी मीणा की घूसवार्ता- 1: परिवादी से पत्रों पर लिखकर 6 लाख रुपए मांगे

पाँच-छह महीने तो हो गए पिंकी मीना: ठीक है जी, आप जैसा भी हो। परिधि: फोन पे ही … पात्र परिवादी: नहीं मैं क्या बताऊं …
हो ना … परिवादी: थोड़ा आप बता दो मैं तो उसी हिसाब से एमडी साहब से बात कर लूंगा … पिंकी मेना: तो फिर आप एमडी साहब को बोल देना कि जो देते आ रहे हो वो दे दे … इतना हो जाएगा अपना परिवादी: क्यों, 6 लाख …. थोड़ा सा (हंसते) ) पिंकी मीना: अभी आप पढो, मैं काम करता हूँ आपका, काम रूल्स के अकॉर्डिंग ही करते हैं, बैट ये है कि … तो स्पष्ट करने के लिए मैंने छह लाख रुपए बोले तो वह सतर्क हो गई और हड़बड़ाते हुए नियमों की बात करने लगी)
परिवादी: नहीं नहीं मैं हटा दूंगा, थोड़ा एमडी साहब के कानों से निकाल देता हूं एक बार ..
पिंकी मेना: जी … घूसवार्ता- 2: 25 हजार प्रति किमी के हिसाब से छह लाख बनता था लेकिन ज्यादा हो सकता है
(

परिवादी: पिछली जो बात हुई थी, वह लगभग आपके पास आ गई या रह गई है। एमडी साहब को थोड़ी सी जानकारी थी …
(नोट: पहले तय हुई राशि की राशि 6 ​​लाख मिलने के बारे में पूछ रही है परिवादी है) पिंकी मेना: इसको बंद कर दे (चपरासी से गेट बंद करने के लिए कहा) परिवादी: बेटा बंद कर, बंद कर दे … 🙂 परिवादी: देखिए 24 किलोमीटर का है …
पिंकी मेना: हाँ … 25 हजार प्रति किमी के हिसाब से तो ये 6 लाख हो गया था …

3: 12 जनवरी 2021 को पिंकी मीणा ने परिवार से कहा था- उस वक्त मुझे समझ ही नहीं थी

परिधि: ठीक है, उन्होंने कहा है बोला यार देख ले, कैसे हो? फिर मैंने उनसे बोला सर पांच तक कर देंगे …

पिंकी मेना: … पिंकी मीना: हाँ, मेरे से मिल के गया था … परिवादी: तो अमित ने भी फोन कर उन्हें दिया था … परिधि: एक महीने में सारा निपटा जाएगा। मतलब 10 के लिए बोला? इसमें न बात पड़ रही है। आप जैसे मेरे को ही बोल देते ना क्या था .. ये समस्या पहले भी मेरे साथ आई थी। हकीकत बताऊं, आप को मतलब है कि समय था, हम फटाफट काम करेंगे जो भी अपनी उस समय बात हुई …
) पिंकी मीना: सही बात क्या है उस समय मुझे समझ ही नहीं थी … घूसवार्ता- ४: १३ जनवरी को परिवादी से बोली पिंकी मेना- ले आए थे क्या, आप तो जयपुर दे दो (नोट: पिंकी मीना: अच्छा ले आए थे, तो आप अमित को दे दीजिए, वो फिर जयपुर ही दे देंगे डायरेक्ट हॉस्पिटल में हो सकते हैं। आज वे वेडनसडे है ना अमित जी को बोल दूंगी तो आप अमित जी को दे दें, ठीक है। परिवादी: ठीक है

Back to top button
%d bloggers like this: