POLITICS

उद्धव ठाकरे गुट के चार MLA मेरे संपर्क में, आ सकते हैं शिंदे गुट के साथ

Maharashtra Politics: 70 वर्षीय नारायण राणे शनिवार(22 अक्टूबर) को पुणे में केंद्र सरकार के ‘रोजगार मेला’ के तहत एक कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि यह खुलासा किया।

Maharashtra Politics: केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने दावा किया है कि उद्धव ठाकरे के चार विधायक उनके संपर्क में हैं। नारायण राणे ने कहा है कि कि कम से कम चार शिवसेना के विधायक महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले सत्तारूढ़ गठबंधन में शामिल होने को लेकर मेरे संपर्क में है।

70 वर्षीय नारायण राणे शनिवार(22 अक्टूबर) को पुणे में केंद्र सरकार के ‘रोजगार मेला’ के तहत एक कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने यह बात कही। हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि वो किन चार विधायकों की बात कर रहे हैं। उन्होंने किसा का नाम नहीं लिया।

क्या बोले केंद्रीय मंत्री:

नारायण राणे ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “56 विधायकों में से उद्धव ठाकरे गुट में मुश्किल से छह से सात विधायक बचे हैं। वे उनका साथ छोड़ने के रास्ते में हैं। उनमें चार विधायक मेरे संपर्क में हैं, लेकिन मैं उनके नाम का खुलासा नहीं करूंगा।”

इसके अलावा, केंद्रीय मंत्री राणे ने ठाकरे पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उनकी(उद्धव की) राजनीति केवल ‘मातोश्री’ तक ही सीमित है। बता दें कि इससे पहले 2 अक्टूबर को मुंबई के वर्ली इलाके से बड़ी संख्या में शिवसेना के कई कार्यकर्ताओं ने पाला बदल कर सीएम एकनाथ शिंदे के आधिकारिक आवास पर उनके साथ हो लिए थे।

शिवसेना को करना पड़ा था टूट का सामना:

इसी साल जून में महाराष्ट्र के विधान परिषद चुनाव के ठीक बाद शिवसेना में विधायकों की टूट का मामला सामने आया था। मालूम हो कि शिवसेना के 40 विधायकों ने उद्धव ठाकरे से अलग होकर अपना अलग गुट बना लिया था। जिसका नेतृत्व एकनाथ शिंदे ने किया। इस घटनाक्रम के चलते मुख्यमंत्री पद से उद्धव ठाकरे को अपना त्यागपत्र देना पड़ा था।

वहीं एकनाथ शिंदे ने भाजपा के साथ मिलकर महाराष्ट्र में नई सरकार बनाई थी। इस दौरान शिवसेना पर दोनों गुटों ने अपना दावा किया तो मामला चुनाव आयोग तक जा पहुंचा। जिसके बाद हाल ही में आयोग ने अपने अंतरिम फैसले में शिवसेना के दोनों गुटों को नया चुनाव चिन्ह और नया नाम आवंटित किया है।

इसमें एकनाथ शिंदे गुट को बालासाहबबांचे शिवसेना (बासा साहब की शिवसेना) नाम मिला है और चुनाव निशान दो तलवारों के साथ ढाल मिला है। वहीं उद्धव गुट को मशाल निशान के साथ शिवसेना उद्धव बाला साहब ठाकरे नाम मिला है।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: