POLITICS

उत्तरप्रदेश में पत्रकारों पर हमले का आरोप: पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सहित सपा के 20 कार्यकर्ताओं पर एफआईआर, व्यक्तिगत सवाल पूछने पर हुई थी मारपीट

विज्ञापन से परेशान है? विज्ञापन के बिना खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुरादाबाद २१ दिन पहले

  • कॉपी नंबर
  • 11 मार्च को मुरादाबाद के एक होटल में अखिलेश की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पत्रकारों से मारपीट की घटना हुई थी। - Dainik Bhaskar

    11 मार्च को मुरादाबाद के एक होटल में अखिलेश की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पत्रकारों से मारपीट की घटना हुई थी ।

    उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव के खिलाफ FIR दर्ज हुई है। मुरादाबाद के एक होटल में पत्रकारों की पिटाई के मामले में अखिलेश सहित समाजवादी पार्टी के 20 अज्ञात कार्यकर्ताओं को आरोपी बनाया गया।) 11 मार्च को मुरादाबाद के एक होटल में अखिलेश की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पत्रकारों से मारपीट की घटना हुई थी।

    पाकबड़ा थाने में केस दर्ज कर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। एफआईआर आईपीसी की धारा 147 (दंगा), 342 (गलत तरीके से रोकना), और 323 (अंक पहुंचाने) के तहत दर्ज की गई है।

    11 मार्च को मुरादाबाद के एक होटल में अखिलेश की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पत्रकारों से मारपीट की घटना हुई थी। - Dainik Bhaskar व्यक्तिगत सवाल पूछने पर हुआ था विवाद भारतीय प्रेस एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अवधेश पाराशर ने पाकबड़ा पुलिस को बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनके कार्यकर्ता 11 मार्च की शाम मुरादाबाद के दिल्ली रोड स्थित होली डेरेडेंसी होटल में थे। पूर्व मुख्यमंत्री प्रेसवार्ता कर रहे थे। राष्ट्रपति कान्फ्रेंस खत्म होने के बाद होटल की लाबी में कुछ पत्रकारों ने अखिलेश यादव से कुछ व्यक्तिगत सवाल पूछे।

    इस पर मुख्यमंत्री नाराज हाे गए। । तब अखिलेश यादव ने अपने सुरक्षाकर्मियों और पार्टी कार्यकर्ताओं को पत्रकारों पर हमला करने के लिए उकसाया। इसके बाद पूर्व मुख्यमंत्री के सुरक्षाकर्मी और सपा कार्यकर्ता मीडियाकर्मियों पर टूट पड़े। उन्होंने मीडियाकर्मियों को दौड़ा कर पीटा। इसमें कई पत्रकारों को गंभीर चोटें आईं। घायल पत्रकारों का उपचार अस्पताल में चल रहा है।

    घटना के बाद पत्रकारों ने मुरादाबाद के एसएसपी को अखिलेश यादव के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए कहा। एक प्रार्थना पत्र दिया गया था। इसके बाद हमले की जांच के आदेश मुरादाबाद मंडल के कमिश्नर आंजनेय कुमार सिंह ने पुलिस को दे दिए थे।

    बीजेपी के प्रमुखों ने अखिलेश पर साधा निशाना उत्तर प्रदेश के विधि एवं न्याय मंत्री बृजेश पाठक ने पत्रकारों पर हुए हमले की निंदा करते हुए अखिलेश यादव पर तीखा हमला बोला। उन्हें उन्होंने कहा कि जो लाल टोपी लगाते हैं, लोग उनसे सतर्क रहें।पाठक ने कहा कि जिस तरह सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की मौजूदगी में उनके सुरक्षा कर्मियों व कार्यकर्ताओं ने पत्रकारों को पीटा, उसकी जितनी निंदा की वह कम ही होगी। । घटना में कई पत्रकारों को गंभीर चोटें आई हैं। यह दानव के चौथे खंभे पर सीधा हमला है। एसपी के लिए यह कोई नई बात नहीं है। प्रदेश में जब-जब समाजवादी पार्टी की सरकार चल रही है, तब-तब तक लोकतंत्र के चौथे खंभे पर हमले हुए हैं।

    Back to top button
    %d bloggers like this: