POLITICS

इतिहास में आज:डॉली भेड़ की घोषणा, जिसे वैज्ञानिकों ने लैब में बनाया था; इसका नाम अमेरिकी सिंगर के नाम पर रखा गया था

  • Hindi News
  • National
  • Today History: Aaj Ka Itihas India World 22 February Update | Cloned Dolly Sheep Interesting Facts, Dolly Sheep Death Reason

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कई सालों से वैज्ञानिक क्लोन बनाने की कोशिश में जुटे थे, लेकिन सफल नहीं हो सके। फिर उन्होंने सोचा कि क्यों न इसे भेड़ों पर ट्राई किया जाए, पर ये भी आसान नहीं था। वैज्ञानिक 227 बार नाकाम हो चुके थे। आखिरकार उनको सफलता मिली और पहली बार क्लोनिंग के जरिए बनी भेड़ ‘डॉली’ का जन्म हुआ। ये ऐसी भेड़ थी, जो पैदा नहीं हुई थी बल्कि इसे वैज्ञानिकों ने लैब में बनाया था।

22 फरवरी 1997 को स्कॉटलैंड के रोसलिन इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों की एक टीम ने क्लोन बनाने की घोषणा की। हालांकि, ये क्लोन भेड़ 5 जुलाई 1996 को पैदा हो गई थी, लेकिन इसकी घोषणा 7 महीने बाद की गई। भेड़ का नाम अमेरिकी सिंगर और एक्ट्रेस डॉली पार्टन के नाम पर रखा गया था। इसकी वजह भी थी। वो ये कि डॉली पार्टन काफी हष्ट-पुष्ट थीं और क्लोन से जो भेड़ पैदा हुई थी, वो भी हष्ट-पुष्ट और तंदुरुस्त थी।

ये पहली बार था, जब वैज्ञानिकों ने सेल यानी कोशिका से क्लोन बनाया था। इसके लिए न्यूक्लियस ट्रांसफर की तकनीक अपनाई गई। इसमें दो भेड़ ली गई। एक सफेद भेड़ और दूसरी काले मुंह वाली भेड़। वैज्ञानिकों ने सफेद भेड़ की कोशिकाओं से न्यूक्लियस निकाला और उसे काले मुंह वाली भेड़ के सेल (अंडे) में डाल दिया। इसके बाद पैदा हुई डॉली भेड़। डॉली भेड़ जब पैदा हुई तो पूरी सफेद रंग की थी। दो साल की उम्र में डॉली ने पहले मेमने को जन्म दिया। उसका नाम था बोनी। उसके बाद डॉली ने 5 और मेमने पैदा किए।

लंग्स कैंसर से हुई डॉली की मौत

2001 आते-आते डॉली बीमार पड़ने लगी। उसकी हालत बहुत खराब हो गई। 14 फरवरी 2003 को डॉली को दवाइयों का ओवरडोज देकर मार दिया गया। उसे यूथेनेशिया यानी इच्छामृत्यु दी गई थी।

जब डॉली पैदा हुई थी, तब डॉक्टरों को उसके 11-12 साल जीने की उम्मीद थी, लेकिन डॉली साढ़े 6 साल में ही मर गई। उसकी मौत के बाद जब पोस्टमार्टम किया गया, तो पता चला कि उसे लंग्स कैंसर था। भेड़ों को अक्सर ये बीमारी हो जाती है।

डॉली के मरने के बाद उसकी बॉडी को स्कॉटलैंड के नेशनल म्यूजियम को डोनेट कर दिया गया। आज भी उसकी बॉडी यहां म्यूजियम में रखी है। इस भेड़ को कीथ कैम्पबेल और इयान विलमट ने बनाया था।

भारत और दुनिया में 22 फरवरी की महत्वपूर्ण घटनाएं इस प्रकार हैं:

  • 2011: न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में 6.1 तीव्रता की भूकंप में 181 लोगों की मौत।
  • 1991: अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने इराक को कुवैत से अपनी सेना हटाने को कहा और धमकी दी कि ऐसा न करने पर अमेरिका इराक पर हमला कर देगा।
  • 1980: अफगानिस्तान में मार्शल लॉ की घोषणा हुई।
  • 1974: पाकिस्तान ने बांग्लादेश को एक देश के रूप में मान्यता दी।
  • 1958: देश के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आजाद का निधन।
  • 1944: महात्मा गांधी की पत्नी कस्तूरबा गांधी का निधन।
  • 1907: लंदन में टैक्सी मीटर वाली पहली कैब शुरू हुई।
  • 1821: स्पेन ने अमेरिका को फ्लोरिडा 50 लाख डॉलर में बेचा।
  • 1732: अमेरिका के पहले राष्ट्रपति जॉर्ज वॉशिंगटन का जन्म।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: