LATEST UPDATES

आफताब से पॉलीग्राफ टेस्ट में पूछे गए 18 सवाल, आज फिर होगी पूछताछ

श्रद्धा वालर की मौत की गुत्थी व्यवस्थित करने के लिए दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को बरसात आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट किया। इसका कारण पुलिस आफताब को एफएसएल लेकर आया। यहां आफताब करीब साढ़े तीन घंटे तक रहा। जानकारी के मुताबिक पहले आफताब का प्री-पॉलीग्राफ टेस्ट हुआ। इसके बाद शुरू हुआ टेस्टिश का पॉलीग्राफ। इस अफरा-तफरी के दौरान 15 से 18 सवाल पूछे गए। दिल्ली पुलिस बुधवार को भी आफताब को एफएसएल में पॉलीग्राफ टेस्ट के लिए लेकर आएगी।

इससे पहले आफताब की मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के झंडोत्तोलन में कोर्ट में पेशी हुई। आफताब ने कोर्ट में जज के सामने कई कबूलनामे किए। कोर्ट में आफताब ने उस हथियार के बारे में भी बताया, जिससे श्रद्धा के टुकड़े किए गए थे। वहीं दिल्ली पुलिस को शक है कि आफताब हर रोज एक साथ कर रहा है।

अभी तक आफताब ने पुलिस को जो कहानी बताई है, वो सही या नहीं, पता लगाने के लिए आपी के पॉलीग्राफी टेस्ट यानी लाई डिटेक्टर टेस्ट चेक। इस दौरान उनसे 15 से 18 सवाल पूछे गए। बुधवार को पुलिस फिर से आफताब को एफएसएल लेकर आएगी। पॉलीग्राफी टेस्ट के बाद उसका नार्को टेस्ट भी किया जाएगा।

श्रद्धा के 35 टुकड़े कहां फेंके?

पिछले 10 दिन से पुलिस ये जानने की कोशिश कर रही है कि आफताब ने श्रद्धा के 35 मोह को कहां फेंका है। इसके लिए दिल्ली पुलिस की टीमें अपनी जगहों पर व्यस्त हैं। इसके साथ ही ये भी पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि आफताब ने श्रद्धा के 35 टुकड़े क्यों किए थे.

जबरद और दांत सबसे बड़ा सबूत

दिल्ली पुलिस सबूतों की खोज में निकल रही है। अब तक पुलिस को जो सबसे बड़ा सबूत मिला है वो एक जबड़ा और एक टूटा हुआ दांत है। पुलिस को है शक कि ये जबड़ा और दांत श्रद्धा का है। क्योंकि श्रीमान ने मुंबई में दांत का रूट कैनाल ऑडिट किया था। अब पुलिस ने दांत और जबड़े को डीएनए जांच के लिए भेजा है।

शरीर के मोहरे का होश रखता था आफताब

इस मामले में आज 2 बड़े खुलासे हुए हैं। पहले ये कि उसने श्रद्धा के शव के टुकड़े जहां-जहां फेंके थे, उसका नक्शा बना लिया है। दूसरा आफताब के फ्लैट से एक नोट मिला है, जिसमें वो श्रद्धा के स्थान को होश-किताब लिखा था। श्रद्धा के 35 टुकड़े करने वाला आफताब रोजाना रात को साढ़े चार बजे अपने फ्लैट से चहलकदमी करता था और श्रद्धा के एक-एक टुकड़े को ठिकाने लगाने से वापस फ्लैट पर ही लौट आता था।

6 महीने का अघटित खंगाला जा रहा

18 मई 2022 को आफताब ने श्रद्धा की हत्या कर 35 टुकड़े कर दिए थे। लेकिन उसे पुलिस ने 12 नवंबर 2022 को गिरफ्तार किया था। रुका आफताब के 6 महीने का अघटित खंगाला जा रहा है। फ्लैट से लेकर हर उस सोच तक पुलिस जांच कर रही है, जहां आफताब जा रहा है। और श्रद्धा की लाश के एक-एक टुकड़े को ठिकाने लगा रहा है। आफताब से श्रद्धा के 35 मोह का सच उगलवाते-उगलवाते दिल्ली पुलिस को 10 दिन हो गए हैं। अब 4 दिन का रिमांड और मिला है। पुलिस को जो कुछ करना है। वह सिर्फ 4 दिन में कर रहा है। मतलब दिल्ली पुलिस के सामने 4 दिन में श्रद्धा के सिर समेत 35 मोहरे का सच उगलने का चैलेंज है.

महरौली के जंगल से पुलिस को क्या मिला?

आफताब के खुलासे पर दिल्ली पुलिस ने महरौली के जंगल से लेकर अलग-अलग सोच से कुछ सबूत एकत्रीकरण किए हैं . पुलिस ने महरौली के जंगल से पुलिस ने 13 हड्डियां उठाई हैं। ही साथ में एक जबड़ा और एक टूटा हुआ दांत मिला है। पुलिस रिमांड के 10वें दिन आफताब ने सबसे बड़ी खबर सामने आई है, वो सबसे ज्यादा हैरान करने वाला है। पुलिस जांच में सामने आया है कि आफताब श्रद्धा के मोहरे का पूरा होश-किताब रखता था। उसने एक रफ नोट में लिखा था कि उसने श्रद्धा का कौन सा टुकड़ा सा कहां फेंका है। ट्रस्टी के मोहरे के उसी साइट प्लान पर दिल्ली पुलिस के 150 से ज्यादा अलर्ट चप्पा-चप्पा छान रहे हैं। इसी रफ नोट का जिक्र करके दिल्ली पुलिस ने आफताब की रिमांड में भी 4 दिन की बढ़ोतरी और बढ़ोतरी है.

आफताब ने मैदानगढ़ी के तालाब का नक्शा बताया

हत्या साबित करने के लिए शरीर के सभी बॉडी पार्ट्स की जरूरत नहीं होती है। लेकिन कुछ बॉडी पार्ट मिल जाएं और डीएनए टेस्ट से पता चल जाए कि ये श्रद्धा के ही हैं, तो पुलिस का काम बेहद आसान हो जाएगा. पुलिस के अनुसार आफताब ने मैदानगढ़ी के तालाब का नक्शा रहने दिया है। पुलिस तालाब में श्रद्धा का सिर तलाश रही है। ये भी देखें

Back to top button
%d bloggers like this: