POLITICS

आज घोषणापत्र जारी करेंगी दीदी: दो बार टकिंग के बाद टीएमसी का मेनिफेस्टो, घर-घर राशन पहुंचाने की घोषणा कर सकते हैं ममता हैं।

  • हिंदी समाचार
  • राष्ट्रीय

    • ममता बनर्जी टीएमसी पार्टी चुनाव घोषणापत्र | ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस मेनिफेस्टो फॉर वेस्ट बंगाल इलेक्शन २०२१

    विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

    पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और TMC चीफ ममता बनर्जी ने बुधवार को विधानसभा चुनाव के लिए अपनी पार्टी का घोषणा पत्र जारी किया। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने लोगों को रोजगार दिया है। लोगों की आमदनी बढ़ी है। हम सभी को साथ लेकर चलना चाहते हैं। यह घोषणा पत्र मां, माटी और मानुष के लिए है। उन्होंने गरीबों को 6 हजार रुपये सालाना देने की घोषणा की।

    ममता ने कहा कि हमने छोटे उद्योग में सबसे ज्यादा पैदा पैदा कीं, जबकि देश भर में बेरोजगारी की दर बढ़ गई है। हमने किसानों के लिए काम किया। हमारी कोशिश है कि लोगों को गरीबी से बाहर निकाला जाए। उन्होंने दिल्ली सरकार की तर्ज पर घर-घर राशन योजना शुरू करने का ऐलान किया। साथ ही कहा कि विधवा महिलाओं को 1 हजार रुपए दिए जाएंगे।

    दीदी के 10 बड़े वाद

    • हर साल रोजगार के 5 लाख मौके तैयार करना, पश्चिम बंगाल को देश की 5 वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाना
    • 1.6 करोड़ परिवारों की महिला मुखिया (सामान्य) वर्ग) को 500 रुपए हर महीने, SC / ST परिवार को 1 हजार महीना
    • स्टूडेंट्स को 4% ब्याज पर 10 लाख रुपए की सीमा वाले क्रेडिट कार्ड
    • 1.5 करोड़ परिवारों को घर तक राशन पहुंचाने की योजना, 50 शहरों में 2500 कैंटीन में 5 रुपए में खाना
    • कृषक बंधु योजना के माध्यम से 68 लाख छोटे किसानों को एक एकड़ जमीन पर 10 हजार रुपए की मदद
    • अगले 5 साल में 5 लाख करोड़ का नया निवेश, 10 लाख छोटी और 2 हजार बड़ी फैक्ट्रियां लगाई जाएगी
    • सभी 23 जिला मुख्यालयों में मेडिकल कॉलेज और सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल
    • हर ब्लाक में एक मॉडल आवासीय विद्यालय, शिक्षा पर जीडीपी का 4% खर्च करने की योजना
    • गांवों में बंगाली आवास योजना के तहत 25 लाख घर तैयार किए जाएंगे
    • सभी घरों में सातों दिन 24 घंटे बिजली, 47 लाख परिवारों तक गैसोलीन से पीने का पानी पहुंचाना

    दो बार टली गई घोषणा पत्र की तारीख सबसे पहले घोषणा पत्र 11 मार्च को जारी किया जाना था, लेकिन ममता के घायल होने के बाद इसे टाल दिया गया। दूसरी बार 14 मार्च को घोषणा का कार्यक्रम तय किया गया, लेकिन फिर तारीख को आगे बढ़ा दिया गया।

    ममता को 10 मार्च को नंदीग्राम में चिन्हित किया गया था । उन्हें पैर में चोट लगी थी। इस घटना के बाद उन्हें कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में भर्ती कराया गया था। घटना के दिन ही उन्होंने नंदीग्राम से नामांकन दाखिल किया था। घटना के बाद ममता ने आरोप लगाया था कि किसी ने उन्हें धक्का दिया, इसी कारण से पैर में चोट लगी। चुनाव आयोग ने 14 मार्च को ममता पर हमले की बात को सिरे से नकार दिया था। आयोग ने ममता की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार उनके सिक्योरिटी इंचार्ज विवेक सहायता को सस्पेंड कर दिया था। आयोग ने पूर्व मेदिनीपुर (इसी जिले में नंदीग्राम आता है) के एसपी प्रवीण प्रकाश और डीएम विभु गोयल को दिया गया। आयोग ने पुलिस को मामले की जांच के आदेश दिए हैं। पुलिस से इसकी रिपोर्ट 31 मार्च तक पूछी गई है। बंगाल में 8 फेज में चुनाव पश्चिम बंगाल की 294 विधानसभा सीटों के लिए इस बार 8 फेज में मतदान होगा। 294 सीटों वाली विधानसभा के लिए मतदान 27 मार्च (30 सीट), 1 अप्रैल (30 सीट), 6 अप्रैल (31 सीट), 10 अप्रैल (44 सीट), 17 अप्रैल (45 सीट), 22 अप्रैल (43 सीट), 26 अप्रैल (36 सीट), 29 अप्रैल (35 सीट) को होना चाहिए। काउंटिंग 2 मई को की जाएगी।

    Back to top button
    %d bloggers like this: