POLITICS

आईआईटी कानपुर की स्टडी: कोरोना की दूसरी लहर का पीक अप्रैल मध्य तक चलेगा, इसके बाद पंजाब और फिर महाराष्ट्र में मामला कम होगा।

विज्ञापन से परेशान है? विज्ञापन के बिना खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली 6 घंटे पहले

कोरोना की दूसरी लहर झेल रहा देश के लिए राहत देने वाली खबर है। इस महीने के मध्य तक दूसरी लहर का पीक आ जाएगा। यानी इस समय एक दिन में मिल के नए मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा होगी। इसके बाद के संक्रमण के मामले में कम होने लगेंगे। ऐसा सबसे पहले पंजाब और फिर महाराष्ट्र में होगा। कि दोनों राज्यों के इस समय कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। IIT कानपुर के वैज्ञानिकों ने एक गणितीय मॉडल ‘सूत्र’ के जरिए स्टडी कर यह संभावना जताई है।

वैज्ञानिकों के मुताबिक, मई के अंत तक संक्रमण के मामलों में काफी गिरावट दिख सकती है। पहली लहर के दौरान सूत्र मॉडल से अनुमान लगाया गया था कि संक्रमण के मामले अगस्त 2020 में बढ़ेंगे और सितंबर तक चरम पर होंगे। फिर फरवरी 2021 में कम हो जाएगा। यह सही साबित हुआ था। वैज्ञानिक मनिंद्र अग्रवाल के मुताबिक, पंजाब पहला राज्य होगा, जहां कुछ दिन में मामला चरम पर पहुंच जाएगा। इसके बाद महाराष्ट्र में पीक आ सकता है।

24 घंटे में 89,019 नए मरीज मिले देश में बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन प्रोग्राम चल रहा है। अब तक वैक्सीन के 7 करोड़ से ज्यादा डोज लगाए जा चुके हैं। देश में कोरोना संक्रमण की स्थिति भयावह होती रही है। बीते 24 घंटे में 89,019 नए मरीज मिले। इसकी तुलना में सिर्फ 44,176% ठीक हुआ। 713 लोगों की मौत हो गई। एक दिन में चेताते हुए लोगों की संख्या पहले पीक से सिर्फ 9,000 कम है। इससे पहले 16 सितंबर को सबसे ज्यादा 97,860 मरीज मिले थे। इसके बाद यह आंकड़ा कम होना शुरू हो गया था।

देश में अब तक लगभग 1.24 करोड़ लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं। लगभग 1.15 करोड़ ठीक हो चुके हैं। 1.64 लाख ने जान गंवाई है। 6.56 लाख लोगों का इलाज चल रहा है।

देश में बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन कार्यक्रम चल रहा है। अब तक वैक्सीन के 7 करोड़ से ज्यादा डोज लगाए जा चुके हैं।

देश में बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन प्रोग्राम चल रहा है। अब तक वैक्सीन के 7 करोड़ से ज्यादा डोज लगाए जा चुके हैं।) शुरू हुआ लगभग ढाई महीने बीतने के बावजूद कई राज्यों में कोरोना के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी है। स्वास्थ्य मिनिस्ट्री के मुताबिक, महाराष्ट्र, पंजाब, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक, गुजरात और दिल्ली में पिछले कुछ दिनों में नए मामलों में तेजी आई है। इन राज्यों में संक्रमण की श्रृंखला टूटने के लिए लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू जैसे उपाय अपनाए जा रहे हैं।

मरीजों और मौतों के मामले में महाराष्ट्र में सबसे आगे आगे है। यहां 29 लाख से ज्यादा लोगचारी हो चुके हैं। यह देश के कुल मामलों का लगभग 25% है। यहां मौतें भी बहुत ज्यादा हुई हैं। इसका आंकड़ा अभी तक 55 हजार को पार कर चुका है। मरीजों की संख्या के हिसाब से केरल दूसरे और कर्नाटक तीसरे नंबर पर है।

    बीते 24 घंटे में सबसे ज्यादा नए केस वाले 10 राज्य
    47,913

    छत्तीसगढ़ 3,290 पंजाब 2,873 गुजरात 2,508
Back to top button
%d bloggers like this: